Hindi News »National »Latest News »National» Supreme Court Notice Air Pollution Center Delhi Uttar Pradesh Punjab Haryana Government

एयर पॉल्यूशन: पराली जलाने पर केंद्र-दिल्ली और 3 राज्यों को SC का नोटिस

दिल्ली में धूल-धुएं की वजह से पिछले दिनों एयर क्लालिटी इंडेक्स सीवियर कैटेगरी में पहुंच गया था।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 13, 2017, 03:29 PM IST

  • एयर पॉल्यूशन: पराली जलाने पर केंद्र-दिल्ली और 3 राज्यों को SC का नोटिस, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    डब्लयूएचओ के मुताबिक, भारत में पिछले 5 साल में 8 गुना बाहरी हवा खराब हुई है।
    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने पराली जलाने और धूल से हो रहे पॉल्यूशन को लेकर केंद्र, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है। नोटिस में पराली न जलाने का निर्देश दिया गया है, साथ ही पॉल्यूशन कम करने के लिए सरकारों से सुझाव मांगे हैं। बता दें कि दिल्ली में धूल-धुएं की वजह से पिछले दिनों एयर क्लालिटी इंडेक्स सीवियर कैटेगरी में पहुंच गया था।

    पांच सरकारों को बनाया गया पक्षकार

    - चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविलकर और डीवाय चंद्रचूड की बेंच एयर पॉल्यूशन को लेकर वकील आरके कपूर की ओर से दायर पिटीशन पर सुनवाई कर रही थी।
    - पिटीशन में दावा किया गया है कि सड़कों से उड़ने वाली धूल और दिल्ली के पड़ोसी राज्यों जैसे- पंजाब-हरियाणा में पराली (फसलों का कचरा) जलाने से एनसीआर और आसपास के इलाकों में पॉल्यूशन हद से ज्यादा बढ़ गया है।
    - इस पिटीशन में दिल्ली सरकार, केंद्र सरकार, हरियाणा सरकार, पंजाब सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार को पक्ष बनाया गया है।
    - बेंच ने सुनवाई के दौरान कहा कि किसी दूसरे कोर्ट में चल रहे पॉल्यूशन से संबंधित केस पर कोई रोक नहीं होगी।
    पिटीशन में क्या मांग रखी गईं?
    1) सुप्रीम कोर्ट दिल्ली सरकार को ऑड-ईवन फॉर्मूले पर दोबारा विचार करने का आदेश दे।
    2) केंद्र सरकार को आदेश दिया जाए कि हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में फसलों की कटाई के बाद बचा कचरा जलाया न जाए। इसका दूसरे कामों में इस्तेमाल किया जाए।
    3) एयर पॉल्यूशन बढ़ा रही गाड़ियों पर जुर्माना लगाया जाए।
    4) दिल्ली सरकार को सड़कों की वैक्यूम क्लीनिंग करने का आदेश दिया जाए।
    5) पॉल्यूशन में कमी लाने के लिए ई-रिक्शे और बैटरी से चलने वाली गाड़ियों के इस्तेमाल को बढ़ावा दिया जाए।
    6) नियमों को नजरअंदाज कर रहीं कंस्ट्रक्शन साइट्स के ओनर्स पर भी जुर्माना लगाया जाए।
    7) गवर्नमेंट बिल्डिंग्स में सोलर एनर्जी को बढ़ावा दिया जाए।

    भारत में पॉल्यूशन से हर साल 25 लाख लोगों की जान जाती है

    - लैंसट के मुताबिक, भारत में हर साल 25 लाख मौतें पॉल्यूशन के चलते होती हैं। दिल्ली में करीब 44 लाख बच्चे स्कूल जाते हैं। इनमें आधे बच्चों को दिल की बीमारी का खतरा है।
    - डब्लयूएचओ के मुताबिक, भारत में पिछले 5 साल में 8 गुना बाहरी हवा खराब हुई है।
    - एशिया में ईरान के जबोल में पीएम-2.5 का औसत लेवल सबसे ज्यादा 217 है।

    टोक्यो से भी 100 गुना ज्यादा पॉल्यूशन

    - दिल्ली का पॉल्यूशन दुनिया के सबसे प्रदूषित बड़े शहरों में शामिल लंदन और टोक्यो के सालाना एवरेज लेवल से करीब 100 गुना ज्यादा है। वहीं, पेरिस के पीएम 2.5 लेवल से करीब 85 और बीजिंग से 18 गुना ज्यादा है। लंदन और टोक्यो का औसत पीएम 2.5 लेवल 15, पेरिस का 18 और बीजिंग का 85 है।
    - डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, दुनिया में पिछले 5 साल में एयर पॉल्यूशन का लेवल 13% बढ़ा है। वहीं, चीन ने 5 साल में बीजिंग में एयर पॉल्यूशन का लेवल 5% कम किया है।
    - दिल्ली में 5 साल में 13% तक हवा पॉल्यूटेड हुई, बीजिंग में पॉल्यूशन का लेवल 5% बेहतर हुआ।
  • एयर पॉल्यूशन: पराली जलाने पर केंद्र-दिल्ली और 3 राज्यों को SC का नोटिस, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    दिल्ली में बढ़ते एयर पॉल्यूशन को लेकर वकील आरके कपूर ने सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन दाखिल की है। -फाइल
  • एयर पॉल्यूशन: पराली जलाने पर केंद्र-दिल्ली और 3 राज्यों को SC का नोटिस, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    सुप्रीम कोर्ट ने माना की पॉल्यूशन को लेकर इमरजेंसी जैसे हालात हैं।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×