Hindi News »India News »Latest News »National» Boost For नरेन्द्र मोदी -Moodys Upgrade Indias Credit Rating After 14 Years, Live Updates

Moody's ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, GST-नोटबंदी का जिक्र किया

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 17, 2017, 03:40 PM IST

एजेंसी ने भारत की रेटिंग Baa3 से बढ़ाकर Baa2 कर दी है। 2004 में भारत की रेटिंग Baa3 थी।
  • Moody's ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, GST-नोटबंदी का जिक्र किया, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    Moody's ने कहा कि मोदी सरकार के पास अपने कार्यकाल का करीब आधा वक्त है। उम्मीद है सरकार रिफॉर्म्स पर बड़े फैसले लेगी। -फाइल

    नई दिल्ली. अमेरिकी एजेंसी Moody's ने 13 साल बाद भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार किया है। एजेंसी ने शुक्रवार को भारत की रेटिंग Baa3 से बढ़ाकर Baa2 कर दी है। Moody's ने भारत की क्रेडिट रेटिंग बढ़ने की वजह यहां इकोनॉमिक और इंस्टीट्यूशनल रिफॉर्म्स को बताया है। 2004 में Moody's ने भारत को Baa3 रेटिंग दी थी। इसे सबसे निचला इन्वेस्टमेंट ग्रेड माना जाता है।

    भारत में लगातार ग्रोथ हो रही

    - न्यूज एजेंसी के मुताबिक Moody's ने अपने स्टेटमेंट में कहा, "भारत की रेटिंग अपग्रेड होने की वजह वहां हो रहे इकोनॉमिक रिफॉर्म्स हैं। जैसे-जैसे वक्त बीतता जाएगा, भारत की ग्रोथ में इजाफा होगा। यह भी मुमकिन है कि मीडियम टर्म में सरकार पर कर्ज का भार कम होता जाए।"
    - "हमारा मानना है कि रिफॉर्म्स को सही तरीके से लागू करने पर कर्ज के तेजी से बढ़ने और ग्रोथ कम होने का खतरा कम होगा।"
    - हालांकि, Moody's ने सलाह दी है कि भारत को ये भी ध्यान रखना चाहिए कि ज्यादा कर्ज कहीं उसका क्रेडिट प्रोफाइल खराब न कर दे।

    मंत्री रविशंकर प्रसाद ने किया ट्वीट

    - "इंटरनेशनल एजेंसी Moody's ने 2004 के बाद पहली बार भारत की रेटिंग अपग्रेड की है। ये मोदी सरकार में भरोसे को दिखाता है।"

    और क्या कहा क्रेडिट एजेंसी ने?

    - "भारत में हो रहे इंस्टीट्यूशनल रिफॉर्म्स ग्रोथ को रफ्तार देंगे। मोदी सरकार के पास अपने कार्यकाल का करीब आधा वक्त है। उम्मीद है कि सरकार रिफॉर्म्स को लेकर बड़े फैसले लेगी।"
    - "भारत सरकार अभी कई रिफॉर्म्स का खाका तैयार कर रही है। अगर इन्हें सही वक्त पर लागू किया गया तो देश में बिजनेस और प्रोडक्टिविटी तो बढ़ेगी ही, साथ ही फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (FDI) में भी बढ़ोत्तरी होगी।"
    - "भारत के रिफॉर्म प्रोग्राम की खासियत ये है कि उनमें झटका सहने की ताकत है। ये बताती है कि देश में ग्रोथ की और दुनिया के सामने खड़े होने की ताकत कितनी मजबूत है।"

    प्रोडक्टिविटी बढ़ाएगा जीएसटी

    - Moody’s ने कहा कि जीएसटी जैसे रिफॉर्म्स से भारत में इंटरस्टेट बैरियर हटेंगे, लिहाजा प्रोडक्टिविटी बढ़ेगी।
    - "मॉनीटरी पॉलिसी में सुधार करके नॉन परफॉर्मिंग लोन्स (NPLs) की परेशानी से निपटा जा सकता है। सरकार के नोटबंदी, आधार से अकाउंट्स को जोड़ना और बेनिफिशियरी के बैंक खाते में डाइरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) जैसे सिस्टम से इकोनॉमी में अड़चनें कम हुई हैं।"
    - Moody’s का अनुमान है कि इस फाइनेंशियल ईयर (2017-18) में भारत की ग्रोथ रेट 6.7% के आसपास रहेगी। इसके बाद सरकार की तरफ से स्मॉल और मीडियम इंडस्ट्रीज (SMEs) और एक्सपोर्टर्स को मदद मिलने के बाद अगले फाइनेंशियल ईयर में ग्रोथ 7.5% से ज्यादा हो सकती है।

    क्या है मूडीज, कैसे दी जाती है रेटिंग?

    - रेटिंग देने के इस सिस्टम देने की शुरुआत 1909 में जॉन मूडी ने की थी। इसका मकसद इन्वेस्टर्स को एक ग्रेड देना है, ताकि मार्केट में उसकी क्रेडिट बन सके।
    - एजेंसी ने ग्रेडिंग के लिए 9 सिम्बल- Aaa, Aa, A, Baa, Ba, B, Caa, Ca और C तय किए हैं। Aa से लेकर Caa तक की 1, 2, 3 सब-कैटेगरी भी होती हैं।
    - फिलहाल Moody's ग्लोबल कैपिटल मार्केट का अहम हिस्सा है। ये फाइनेंशियल मार्केट को क्रेडिट रेटिंग, रिसर्च टूल्स और एनालिसिस देता है।
    - Moody's कॉर्पोरेशन, Moody's इन्वेस्टर्स सर्विस की पेरेंट कंपनी है, जो क्रेडिट रेटिंग और रिसर्च का काम करती है
    - 2016 में कॉर्पोरेशन का रेवेन्यू 3.6 बिलियन डॉलर (करीब 23 हजार 321 करोड़ रुपए) था। एजेंसी का काम दुनिया के 41 देशों में है, जिसमें करीब 11 हजार 700 लोग काम करते हैं।

  • Moody's ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, GST-नोटबंदी का जिक्र किया, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    रविशंकर प्रसाद का ट्वीट।
  • Moody's ने 13 साल बाद सुधारी भारत की रेटिंग, GST-नोटबंदी का जिक्र किया, national news in hindi, national news
    +2और स्लाइड देखें
    Moody's ने अपने स्टेटमेंट में कहा, भारत की रेटिंग अपग्रेड होने की वजह वहां हो रहे इकोनॉमिक रिफॉर्म्स हैं। -फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Boost For नरेन्द्र मोदी -Moodys Upgrade Indias Credit Rating After 14 Years, Live Updates
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From National

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×