Hindi News »National »Latest News »National» Yashwant Sinha Arun Jaitley GST Burden On Gujrat

GST में बड़ी खामियां हैं, देश जेटली से इस्तीफा मांग सकता है: यशवंत सिन्हा

सिन्हा ने यहां तक कह दिया कि जेटली गुजरात की जनता पर बोझ हैं। बता दें कि जेटली गुजरात से ही राज्यसभा सांसद हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 14, 2017, 09:25 PM IST

  • GST में बड़ी खामियां हैं, देश जेटली से इस्तीफा मांग सकता है: यशवंत सिन्हा, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    मंगलवार को अहमदाबाद में सिन्हा ने कहा- जीएसटी में बड़ी खामियां हैं और देश इसके लिए जेटली से इस्तीफा मांग सकता है।- फाइल
    अहमदाबाद.बीजेपी के सीनियर लीडर यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर अरुण जेटली पर तंज कसा। मंगलवार को अहमदाबाद में सिन्हा ने कहा- जीएसटी में बड़ी खामियां हैं और देश इसके लिए जेटली से इस्तीफा मांग सकता है। सिन्हा ने यहां तक कह दिया कि जेटली गुजरात की जनता पर बोझ हैं। बता दें कि जेटली गुजरात से ही राज्यसभा सांसद हैं। सिन्हा ने सितंबर में नोटबंदी को इकोनॉमिक डिजास्टर बताया था।

    सिन्हा गुजरात क्यों आए?

    - गुजरात में अगले महीने असेंबली इलेक्शन हैं। सिन्हा यहां ‘लोकशाही बचाओ आंदोलन’ के एक्टिविस्ट्स के बुलावे पर आए थे। इस दौरान उन्होंने मीडिया के तमाम सवालों के जवाब दिए। सिन्हा मोदी सरकार की इकोनॉमिक पॉलिसीज को पहले से क्रिटिसाइज करते रहे हैं।
    - उन्होंने कहा- जीएसटी पर पूरी तरह विचार किए बिना इसे लागू किया गया। देश की इकोनॉमी को एक के बाद एक दो झटके दिए गए। पहले नोटबंदी और अब जीएसटी। बता दें कि सिन्हा पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर हैं।
    - सिन्हा ने कहा कि अगर जीएसटी लागू करने से पहले इस पर पूरा ध्यान दिया गया होता तो इस तरह की गड़बड़ियां नहीं होतीं। सिन्हा ने कहा कि देश को जेटली से पद छोड़ने की मांग करने का हक है।

    गुजरात के नहीं हैं जेटली

    - एक सवाल के जवाब में सिन्हा ने कहा- हमारे फाइनेंस मिनिस्टर गुजरात के नहीं हैं, लेकिन राज्यसभा के लिए वे यहीं से चुने जाते हैं। वे गुजरात के लोगों पर बोझ हैं। अगर वे यहां से नहीं चुने जाते तो किसी गुजराती को मौका मिल सकता था। जेटली एक ही रूल में यकीन करते हैं- चित भी मेरी और पट भी मेरी। वो हर बात का क्रेडिट लेने की कोशिश करते हैं।

    मैं बैठकर स्पीच नहीं देता: सिन्हा

    - जेटली ने सितंबर में सिन्हा पर तंज कसते हुए कहा था कि वो 80 साल की उम्र में जॉब खोज रहे हैं। इस बारे में पूछे गए एक सवाल पर सिन्हा ने कहा कि वो किसी मार्गदर्शक मंडल का हिस्सा नहीं हैं। सिन्हा ने कहा कि वो उन लोगों से ज्यादा फिट हैं जो बैठकर भाषण देते हैं।
    - दरअसल, जेटली ने इस साल बजट पेश करते हुए बैठकर भाषण दिया था। इस दौरान उनकी तबीयत खराब थी। सिन्हा शायद इसी मामले को उठा रहे थे।

    बेटे से मतभेद कराने की साजिश

    - यशवंत के बेटे जयंत सिन्हा मोदी सरकार में मंत्री हैं। जब यशवंत ने मोदी सरकार की इकोनॉमिक पॉलिसीज पर सवाल उठाए थे तो जयंत ने सरकार का बचाव किया था। बेटे के बारे में पूछे गए एक सवाल पर यशवंत ने कहा- कुछ लोगों ने पिता-पुत्र में दरार पैदा करने की कोशिश की, लेकिन वे कामयाब नहीं हुए।
    - राहुल गांधी ने पिछले दिनों जीएसटी को सिंगल टैक्स रेट में तब्दील करने की मांग की थी। जेटली ने इसे ‘बचकाना’ कहा था। इस बारे में पूछे गए एक सवाल पर सिन्हा ने कहा- इतिहास में जाएं। जेटली ने खुद कहा था कि वो एक सिंगल टैक्स स्ट्रक्चर की तरफ बढ़ रहे हैं।
    - सिन्हा ने फिर कहा कि नोटबंदी का जो मकसद था, वो पूरा नहीं हुआ। क्या ये ब्लैक मनी के खिलाफ था, फेक करंसी के खिलाफ था, या आतंकवाद के खिलाफ था? ये परेशानियां तो अब भी मौजूद हैं।

    सिन्हा ने पहले क्या कहा था?

    - यशवंत सिन्हा ने सितंबर में एक अखबार में आर्टिकल लिखा था। इसमें कहा था- इकोनॉमी की हालत खराब है। पिछले दो दशक में प्राइवेट क्षेत्र में इन्वेस्टमेंट सबसे कम रहा है। जीएसटी को गलत तरीके से लागू किया गया। इससे लाखों लोग बेरोजगार हो गए। इकोनॉमी में तो पहले से ही गिरावट आ रही थी, नोटबंदी ने तो सिर्फ आग में घी का काम किया। उनके बेटे जयंत सिन्हा ने पिता के आरोपों को गलत बताया था।
  • GST में बड़ी खामियां हैं, देश जेटली से इस्तीफा मांग सकता है: यशवंत सिन्हा, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    जेटली के साथ जयंत सिन्हा। जयंत यशवंत सिन्हा के बेटे हैं। - फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×