Hindi News »National »Ayodhya Vivad »Latest News» Rahul Takes Dig At PM Amid Reports Of China's New Route To Doklam

डोकलाम मुद्दे पर राहुल ने बोला पीएम पर हमला, कहा- अब लोगों के सामने रोएंगे या चीन को गले लगाएंगे

पीएम की अगली प्रतिक्रिया को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने टि्वटर पर लोगों से मांगी राय।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Mar 21, 2018, 10:01 PM IST

नई दिल्ली.कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के प्रचार में जुटे कांग्रेस अध्यक्ष ने डोकलाम मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पॉलिसी पर सवाल किया। राहुल ने डोकलाम मसले को लेकर अपने ट्विटर हैंडल पर एक सर्वे का ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने कहा, "डोकलाम में फिर चीन का सेशन चल रहा है। इस बार मोदीजी किस तरह रिएक्ट करेंगे।" राहुल ने एक सर्वे का फॉर्मेट भी दिया है, जिस पर उन्होंने लोगों से पूछा है कि इस बार पीएम की पॉलिसी क्या होगी।

राहुल ने सर्वे में दिए हैं चार ऑप्शन

- कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम के अगले कदम को लेकर सर्वे कराया। इसमें उन्होंने पूछा है कि डोकलाम पर मोदी क्या कहेंगे?
-राहुल ने 4 ऑप्शन दिए। पहला- हगप्लोमेसी, दूसरा-ब्लेम आरएम (रक्षा मंत्री), तीसरा- पब्लिक के सामने रोना और चौथा- इनमें से सभी।
- राहुल ने ट्वीट में उस न्यूज रिपोर्टर को भी टैग किया, जिसने दावा किया था कि तिब्बत की चुम्बी घाटी के उत्तर क्षेत्र में, पूर्व में भूटान की हा घाटी और पश्चिम में सिक्किम में चीन के निर्माण गतिविधियों पर भारत ने रोक लगा दी थी। उसके सात महीने बाद चीन साउथ डोकलाम तक जाने के लिए नए रास्तों की तलाश कर रहा है।

कर्नाटक में भी किया डोकलाम का जिक्र

- राहुल बुधवार को कर्नाटक दौरे पर थे। उन्होंने यहां के धार्मिक स्थलों में जाकर दर्शन किए और जनसभा को संबोधित किया।

- चिकमगलौर में राहुल बोले, "डोकलाम के बॉर्डर एरिया में हेलिपैड्स और एयरपोर्ट्स बना रहा है। लेकिन, हमारे प्रधानमंत्री चुप हैं।"

डोकलाम में रास्ता बना रही है चीनी सेना

- मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, चीनी सेना डोकलाम स्थित भारतीय सेना की पोस्ट के पास 1.3 किमी का रास्ता बना रही है। वह भारतीय सेना के कम्युनिकेशन टूल्स को भी इंस्टॉल करने का प्रयास कर रही है। इससे पहले पिछले साल भी चीनी सैनिकों ने डोकलाम में 73 दिनों तक डेरा डाल रखा था, जिसे लेकर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने थीं।
- तब दोनों देशों के उच्च अधिकारियों के बातचीत के बाद गतिरोध खत्म हुआ था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×