Hindi News »National »Ayodhya Vivad »Latest News» 2G Spectrum Scam Chronology Of What Is Known

2 जी घोटाला: अजीब दास्तां हैं ये, कहां शुरू कहां खत्म

2जी स्पैक्ट्रम घोटाला मामले में कोर्ट ने पूर्व मंत्री ए. राजा और डीएमके नेता कनिमोझी समेत 44 आरोपियों को बरी कर दिया है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 21, 2017, 06:20 PM IST

    • Video: 2 जी घोटाला

      2जी स्पैक्ट्रम घोटाला मामले में सीबीआई के स्पेशल कोर्ट ने पूर्व मंत्री ए. राजा और डीएमके नेता कनिमोझी समेत 44 आरोपियों और कई कंपनियों को बरी कर दिया। जज ने कहा कि प्रॉसिक्यूशन आरोप साबित करने में नाकाम रहा। लिहाजा सभी को बरी किया जाता है।

      2 जी घोटाला कब सामने आया था?
      2010 में कैग रहे विनोद राय की रिपोर्ट से घोटाला सामने आया था।
      ट्रायल कब शुरू हुआ?
      2जी मामले में ट्रायल 6 साल पहले 2011 में शुरू हुआ था। कोर्ट ने 17 आरोपियों के चार्ज तय किए थे।

      CAG की रिपोर्ट में क्या था?
      इसमें कहा गया कि 2जी स्पैक्ट्रम के अलॉटमेंट के लिए नीलामी नहीं की गई, इससे देश का नुकसान हुआ।

      सुप्रीम कोर्ट ने क्या किया?
      सुप्रीम कोर्ट ने 2जी स्पैक्ट्रम आवंटन में पद के दुरुपयोग की बात कही। फरवरी, 2012 में 122 लाइसेंस रद्द कर दिए।


      सीबीआई कोर्ट ने क्या फैसला दिया?
      21 दिसंबर को सीबीआई कोर्ट ने 2जी केस में राजा-कनिमोझी समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया।

      सीबीआई की चार्जशीट में क्या कहा गया था?
      - 2011 में राजा-कनिमोझी और अन्य आरोपियों पर आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज बनाने, घूस लेने और पद का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया।

    • 2 जी घोटाला: अजीब दास्तां हैं ये, कहां शुरू कहां खत्म
      +1और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Latest News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×