--Advertisement--

जम्मू-कश्मीर में एनकाउंटर, जवानों ने 8 आतंकियों को मार गिराया

जम्मू-कश्मीर में रविवार को दो एनकाउंटर हुए। सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में एक और शोपियां में 7 आतंकियों को मार गिराया।

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 09:47 AM IST

नेशनल डेस्क. जम्मू-कश्मीर में जवानों ने तीन अलग-अलग जगहों पर हुए एनकाउंटर में 8 आतंकियों को मार गिराया। दो एनाकाउंटर रविवार को हुए। मारे गए आतंकियों में टॉप कमांडर्स भी शामिल हैं। एनकाउंटर में तीन जवान भी घायल हो गए। ऑपरेशन आर्मी, जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआपीएफ के जवानों ने मिलकर किया। सोपिया और अनंतनाग में आतंकियों के छिपे होने की खबर मिली थी जिसके बाद जवानों ने चारों तरफ से घेरकर अटैक किया। जिसके बाद अनंतनाग मं एक और शोपियां में 7 आतंकी मारे गए।

- जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने कहा कि शोपियां जिले के द्रागड़ गांव में मारे गए सात आतंकियों की डेडबॉडी बरामद कर ली गई है। आतंकियों के पास भारी मात्रा में गोला-बारूद और हथियार थे जिन्हें आर्मी ने जब्त कर लिया है। वहीं कछडोरा गांव में चले एनकाउंटर में चार से पांच टेररिस्ट के छुपे होने की आशंका है। कुछ नागरिक भी उनके साथ फंसे हैं। नागरिकों को बचाने की कोशिश की जा रही है।

- सेना के स्पोक्सपर्सन ने कहा कि अभी ऑपरेशन जारी है। पिछले तीन दिनों में अज्ञात हमलावरों ने दो स्पेशल पुलिस ऑफिसर्स की हत्या कर दी। हालांकि जवाबी गोलीबारी में आतंकी भी घायल हुए हैं।

कुपवाड़ा में 5 आतंकी मारे गए थे
- 22 मार्च को कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों ने 48 घंटे चली मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के 5 आतंकियों को मार गिराया था। इसमें सेना और पुलिस के 5 जवान भी शहीद हो गए थे।
- फोर्स ने आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद किया गया था।
- 21 मार्च को जब सेना इलाके में सर्चिंग कर रही थी, तभी अचानक से आतंकियों ने हमला कर दिया।
- 20 मार्च को फोर्स और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई थी। शाम को रोशनी कम होने के चलते ऑपरेशन बंद कर दिया गया था।
- 25 मार्च को बड़गाम में फोर्स ने एक और 24 मार्च को 2 आतंकी मारे गए थे।