Hindi News »National »Ayodhya Vivad »Latest News» After Death Of Lal Bahadur Shastri Wife Pay His Loan Of Pnb

जब शास्त्री जी की पत्नी ने पेंशन से चुकाया था PNB का 5000 रु का कार लोन

पीएनबी का नाम इन दिनों घोटाले की वजह से सुखियों में है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Feb 21, 2018, 08:55 PM IST

  • जब शास्त्री जी की पत्नी ने पेंशन से चुकाया था PNB का 5000 रु का कार लोन
    +1और स्लाइड देखें

    स्पेशल डेस्क. पीएनबी का नाम इन दिनों घोटाले की वजह से सुखियों में है। नीरव मोदी जैसे लोग बैंक को बेवकूफ बना रहे हैं और जनता का पैसा हड़प करके भाग रहे हैं। वहीं, पीएनबी से जुड़ा एक ऐसा किस्सा भी है, जिससे जानने के बाद आपको ये यकीन हो जाएगा कि वाकई इस देश में आम आदमी ही ईमानदारी से अपना जिम्मेदारी निभा रहा है। जबकि ताकतवार और रसूखदार अपनी तिजोरियां भर रहे हैं। कांग्रेसी सांसद शशि थरूर ने PNB और लाल बहादुर शास्त्री से जुड़ा एक किस्सा टि्वटर पर साझा किया है।

    क्या है किस्सा?
    शशि थरूर ने अपने ट्विटर पर PNB और ईमानदारी की मिसाल माने जाने वाले भूतपूर्व पीएम लालबहादुर शास्त्री का किस्सा सुनाया।
    - उन्होंने बताया कि शास्त्री ने साल 1965 में PNB से फिएट कार खरीदने के लिए 5,000 रुपए का कर्ज़ लिया था।
    - उस समय उनके बैंक अकाउंट में सात हजार रुपए थे, मगर कार 12 हजार रुपए थी।
    - शास्त्री ने इसके लिए पीएनबी में लोन के लिए अर्जी लगाई।
    - उन्हें उसी दिन लोन भी मिल गया था। लोन लेकर शास्त्री जी ने जो कार खरीदी थी, उसका नंबर DLE 6 था।
    - मगर इसके एक साल बाद 1966 में शास्त्री की मौत ताशकंद में हो गई।
    - जब शास्त्री जी की मौत बिना लोन चुकाए इस दुनिया से चले गए तो बैंक ने उनकी पत्नी ललिता शास्त्री को एक खत लिखा
    - इसमें पांच हजार रुपए बैंक के लोन बकाया चुकाने को कहा गया।
    - उसके बाद उनकी पत्नी ने परिवार के पेंशन के पैसे बैंक को लोन को चुकता किया उन्होंने लोन का पाई-पाई चुका दिया।

    - थरूर के इस ट्वीट में शास्त्री जी के कार की फोटो है। जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है और लोग इसे खूब शेयर कर रहे हैं।

  • जब शास्त्री जी की पत्नी ने पेंशन से चुकाया था PNB का 5000 रु का कार लोन
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×