--Advertisement--

केजरीवाल के वो बेतुके बयान, जिसकी वजह से आज उनकी छीछालैदर हो रही है

अरविंद केजरीवाल से उनकी ही पार्टी के कई नेता नाखुश हैं।

Danik Bhaskar | Mar 16, 2018, 05:41 PM IST

स्पेशल डेस्क. अरविंद केजरीवाल से उनकी ही पार्टी के कई नेता नाखुश हैं। ताजा मामला पंजाब प्रभारी भगवंत मान का इस्तीफा देने का है। ये मामला अकाली सरकार के पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया से केजरीवाल के माफी मांगने के बाद शुरू हुआ। दरअसल, 2016 के पंजाब विधानसभा चुनाव कैंपेन में केजरी ने मजीठिया पर ड्रग ट्रेड में शामिल होने का आरोप लगाया था। आखिर क्यों मांगी केजरी ने माफी...

- आप की प्रवक्ता सौरभ भरद्वाज ने कहा है कि केजरीवाल पर कई बड़ी शख्सियतों ने मानहािन के केस कर रखे हैं। ऐसे में उनके लिए काम करना बड़ा मुश्किल हो रहा है।

- उन्होंने कहा कि कई केस की सुनवाई के लिए केजरी को अलग-अलग शहरों की कोर्ट में जाना पड़ता है। इससे वो अपने दिल्ली के कामकाज पर फोकस नहीं कर पा रहे हैं।

मजीठिया से माफीनामे में क्या कहा केजरी ने?
माफीनामे में केजरीवाल ने कहा कि अब वह जान गए हैं कि सारे आरोप निराधार हैं, इसलिए वह मजीठिया के खिलाफ लगाए गए सभी आरोप और बयान वापस लेते हैं और उनके लिए माफी भी मांगते हैं।आइए देखते हैं कि अपनी राजनीति की शुरुआत से लेकर अब तक केजरीवाल ने ऐसे कितने बयान दिए, जिसके बाद उन्हें अफसोस होता होगा..

चुनाव आयोग बेहया और रीढ़विहीन
पंजाब सहित पांच राज्यों के चुनाव के रिजल्ट से केजरीवाल काफी निराश हो गए थे। उन्होंने चुनाव आयोग निष्पक्ष चुनाव कराने पर ही उंगली उठा दी थी। उन्होंने चुनाव आयोग के लिए रीढ़विहीन और बेहया जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया। साथ ही कहा कि इसने पीएम नरेंद्र मोदी के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है।

आगे की स्लाइड्स में देखें, माेदी के बारे में क्या बोले थे केजरीवाल...

मोदी कायर और मनोरोगी
दिल्ली सीएम अरविन्द केजरीवाल पीएम मोदी को कायर और मनोरोगी तक कह दिया था। साथ ही उन्होंने कहा था कि इस बयान पर उन्हें कोई अफसोस नहीं है।

केंद्र के इशारों पर चलते है जंग

केजरीवाल का दिल्ली के उप राज्यपाल नजीब जंग से रोज-रोज हो रही लड़ाई किसी सास बहू के डेली सोप की याद दिलाती थी। नजीब जंग उपराज्यपाल के रूप में केन्द्रशासित दिल्ली के मुखिया थे और जब-जब दिल्ली सरकार संवैधानिक नियमों का उल्लंघन करती थी, वह केजरीवाल को टोकते थे, लेकिन केजरीवाल ने नजीब जंग को दलाल, मोदी का नौकर, घुटना टेकने वाला और न जाने क्या-क्या कह डाला! बाद में नजीब जंग ने इस्तीफा दे दिया।

मेरी जबान गंदी हो सकती है

केजरीवाल पर किसी प्रकार की जांच होती है, तो वह भड़क जाते हैं. सिर्फ भड़कते ही नहीं, जो दिल में आता है वह कह डालते हैं। अपने बयानों को केजरीवाल यह कहकर जायज़ ठहराते हैं कि ‘मेरी जबान गंदी है, लेकिन कर्म नहीं।

जेटली जी रोज भीख मांग रहे हैं

अरविन्द केजरीवाल पर कई सारे मानहानि के मुकदमे हुए, जिन पर कोर्ट की तरफ से उन्हें मुंह की भी खानी पड़ी। कई बार तो केजरीवाल को माफी तक मांगनी पड़ी। लेकिन मीडिया में बोलते हुए केजरीवाल ने कहा था कि जेटली जी रोज खड़े होकर भीख मांग रहे हैं कि केजरीवाल जी मांफी मांग लीजिए।