--Advertisement--

बच्चों ने निकाला तो फरिश्ता बना ट्रैफिक पुलिस वाला, बेघर महिला को हाथ से खिलाया खाना

सोशल मीडिया पर इन दिनों हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस के होमगार्ड को खूब तारीफ मिल रही है।

Danik Bhaskar | Apr 03, 2018, 05:50 PM IST

हैदराबाद. सोशल मीडिया पर इन दिनों हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस के होमगार्ड को खूब तारीफ मिल रही है। इसका कारण है वायरल होती एक फोटो। इस फोटो में ट्रैफिक पुलिस होमगार्ड बी गोपाल एक बेघर महिला को हाथ से खाना खिलाते नजर आ रहे हैं। जब वो इस बुजुर्ग महिला को खाना खिला रहे थे तभी ये तस्वीर खींच ली गई। टि्वटर पर वायरल होती इस तस्वीर को राज्य के होम मिनिस्टर ने खूब तारीफ की है। हालत देख आ गई दया..


- होमगार्ड बी गोपाल जवाहर लाल नेहरू टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के पास वाले जंक्शन पर तैनात थे।
- तभी उन्होंने कमजारे से दिखने वाली एक बुजुर्ग महिला को दयनीय हालत में देखा। उसका नाम बुचाम्मा है।
- गोपाल से महिला की हालत देखी नहीं। वह तुरंत उसकी ओर खाने लेकर दौड़े। उन्होंने उसे हाथ से खाना खिलाया।
- हैदराबाद पुलिस के पीआरओ ने इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर किया, जो कि तेजी से वायरल हो रही है।
- गोपाल के काम की साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार और गृहमंत्री नयनी नरसिम्हा रेड्डी ने गोपाल जमकर तारीफ की।

कौन है बुचाम्मा?
- गोपाल के मुताबिक, पांच महीने पहले एक गाड़ी ने बुचाम्मा को टक्कर मार दी थी।
- तब वह उसे अस्पताल ले गए थे और देखभाल की थी। तब से वह डिपार्टमेंट के उन लोगों के काफी करीब रहती हैं।
- बुचाम्मा के नौ बच्चे हैं, लेकिन उन्होंने उन्हें बेघर छोड़ दिया, उम्मीद है कि उनमें से एक उनकी तलाश में आएगा और उन्हें घर ले जाएगा।