--Advertisement--

44 दिन में 26 भारतीय जवान शहीद, पाकिस्तान को मिली तो सिर्फ 'चेतावनी'

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 06:25 PM IST

पठानकोट हमले के बाद इंडियन आर्मी कैंप पर 10 से 11 बड़े हमले हुए हैं।

Why is Modi not taking action against Pakistan

नेशनल डेस्क. पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान। बार-बार सीजफायर का उल्लंघन करता है। धोखे से सैनिकों पर वार करता है। पठानकोट अटैक के बाद 10 से 11 बड़े हमले इंडियन आर्मी कैंप पर हो चुके हैं। 11 फरवरी को सुंजवान में सेना कैंप पर आतंकी हमला में 6 जवान शहीद हो गए। जिसके बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक प्रेस कॉफ्रेंस की। जिसमें हमले के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि पाकिस्तान को इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। लेकिन ऐसे में सवाल उठता है कि पाकिस्तान को जुबानी चेतावनी कब तक दी जाएगी। क्या पाकिस्तान के खिलाफ सख्त फैसले लेने की जरूरत है।

44 दिनों में 26 भारतीय जवान शहीद हो गए
- 31 दिसंबर 2017 को पुलवामा में सीआरपीएफ के कमांडो ट्रेनिंग सेंटर पर हमला, पांच जवान शहीद
- 3 जनवरी 2018 को बॉर्डर पर तैनात बीएसएफ का एक जवान पाकिस्तान की तरफ से की गई गोलीबारी में शहीद
- 6 जनवरी 2018 को सोपोर में विस्फोटक से चार पुलिसकर्मी शहीद, हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली
- 13 जनवरी 2018 को सुंदरबनी सेक्टर में सरहद पार से फायरिंग, लांस नायक योगेश मुरलीधर शहीद
- 18 जनवरी 2018 को आर एस पुरा सेक्टर में फायरिंग, बीएसएफ के एक हेड कांस्टेबल शहीद
- 19 जनवरी 2018 बॉर्डर पर फायरिंग, बीएसएफ का जवान शहीद
- 20 जनवरी 2018 को सीमा चौकियों पर हमला, दो जवान शहीद
- 4 फरवरी 2018 पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी में चार जवान शहीद हो गए
- 11 फरवरी 2018 सुंजवान में सेना कैंप पर आतंकी हमला, 6 जवान शहीद
- 12 फरवरी 2018 को श्रीनगर में करण सेक्टर में सीआरपीएफ कैंप पर हमला, सीआरपीएफ कांस्टेबल मोजाहिद खान शहीद

जवान शहीद होते रहे नेता बयानबाजी करते रहे
- पाकिस्तान की ओर से हो रहे आतंकी हमले से जुड़े एक सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा कि 'जम्मू कश्मीर में बीजेपी सरकार आने के बाद जितने आतंकवादियों को मार गिराया गया है उतने आजादी के बाद कभी नहीं मारे गए'।

- 10 फरवरी को गृहमंत्री राजनाथ सिंह से सवाल पूछा गया था कि बार-बार आतंकी हमले हो रहे हैं तो उन्होंने कहा था कि आश्वस्त रहिए। हमारी सेना और सुरक्षाबल के जवान बखूबी काम को अंजाम दे रहे हैं। अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह कर रहे हैं और कभी भारतवासियों का मस्तक झुकने नहीं देंगे।

- गृहराज्य मंत्री हंसराज अहीर ने बार-बार आतंकी हमलों के सवाल पर जवाब दिया कि 'हमारे जवान पूरी जिम्मेदारी से काम कर रहे हैं। हमें सेना और सुरक्षाबलों पर पूरा विश्वास है। ये आतंकी समाज के किसी भी वर्ग के ऊपर कब क्या हमला करेंगे इसका अंदाजा तो नहीं होता है। देश जानता है, दुनिया जानती है, आतंक से सब परेशान हैं, सब इसे खत्म करने की कोशिश में लगे हैं'।

X
Why is Modi not taking action against Pakistan
Astrology

Recommended

Click to listen..