Hindi News »National »Utility» Legal Rights That Every Women Should Know

पुलिस रात में नहीं कर सकती किसी महिला को अरेस्ट, जानिए ये 5 अधिकार

हम इस वीडियो के जरिए बता रहे हैं महिलाओं से जुड़े ऐसे अधिकारों के बारे में जो हर महिला को पता होना ही चाहिए।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 22, 2017, 12:04 AM IST

पुलिस रात में नहीं कर सकती किसी महिला को अरेस्ट, जानिए ये 5 अधिकार

यूटिलिटी डेस्क। कई महिलाएं अपने लीगल राइट्स (कानूनी अधिकार) को जानती नहीं। ऐसे में इन महिलाओं को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हम इस वीडियो के जरिए बता रहे हैं महिलाओं से जुड़े ऐसे अधिकारों के बारे में जो हर महिला को पता होना ही चाहिए।

#रात में नहीं कर सकते अरेस्ट
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक किसी भी महिला को सूरज ढलने के बाद अरेस्ट नहीं किया जा सकता। अमूमन 6 बजे के करीब सूरज ढल जाता है। कई महिलाओं को अपने इस अधिकार की जानकारी ही नहीं। महिला सिपाही भी किसी महिला को रात में अरेस्ट नहीं कर सकतीं। यदि कोई बहुत सीरियस क्राइम है तब भी पुलिस को लिखित में मजिस्ट्रेट को बताना होगा कि आखिर क्यों महिला को रात में ही अरेस्ट करना जरूरी है।

# प्राइवेसी का अधिकार
रेप पीड़िता को अपना स्टेटमेंट प्राइवेट जगह पर देने का अधिकार है। ऐसे में सिर्फ मजिस्ट्रेट ही महिला के साथ होते हैं। पीड़ित महिला लेडी कॉन्स्टेबल और पुलिस अधिकारी को भी गोपनीय तरीके से अपना स्टेटमेंट दे सकती है। ऐसे केस में पुलिस महिला को सभी के सामने स्टेटमेंट देने के लिए मजबूर नहीं कर सकती।

# कितने भी समय बाद कर सकती हैं कम्पलेंट
कई बार महिला सोसायटी, फैमिली या किसी दूसरे कारण से पुलिस को घटना के समय शिकायत नहीं कर पाती। ऐसे में महिला देरी से भी शिकायत करती है तो पुलिस कम्पलेंट रजिस्टर करने से मना नहीं कर सकती। महिला ईमेल के जरिए भी कम्पलेंट रजिस्टर करवा सकती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: police raat mein nahi kar skti kisi mahila ko arest, jaanie ye 5 adhikar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Utility

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×