--Advertisement--

एयर इंडिया ने घरेलू उड़ान में तय सीमा से ज्यादा भार का सामान ले जाने पर 500 रुपए/किलो तक चार्ज बढ़ाया

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 09:24 PM IST

बढ़ी हुई दरें 11 जून से लागू होंगी। फिलहाल एयरलाइन अतिरिक्त बोझ पर 400 रुपए प्रति किलो के हिसाब से चार्ज लेती है।

सरकार एअर इंडिया के घाटे की भरपाई के लिए इसकी 76 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिल रहा है। -फाइल सरकार एअर इंडिया के घाटे की भरपाई के लिए इसकी 76 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिल रहा है। -फाइल

  • एअर इंडिया लगातार 8 साल से घाटे में चल रही है
  • सरकार ने एअर इंडिया में मौजूदा वित्त वर्ष में 80 हजार करोड़ रुपए के विनिवेश का लक्ष्य रखा है

मुंबई. एअर इंडिया ने अपनी घरेलू उड़ानों में तय सीमा से ज्यादा भार का सामान ले जाने पर चार्ज में 100 रुपए प्रति किलो की बढ़ोतरी कर दी है। फिलहाल एयरलाइन अतिरिक्त बोझ पर 400 रुपए प्रति किलो के हिसाब से शुल्क लेती थी। अब 500 रुपए प्रति किलो शुल्क लिया जाएगा। नई दरें 11 जून से लागू होंगी।

'एयरलाइंस एअर' में शुल्क नहीं बढ़ेगा

- एअर इंडिया ने कहा है कि नई दरें उसकी सहयोगी 'एयरलाइंस एयर' को छोड़कर एअर इंडिया द्वारा संचालित सभी घरेलू उड़ानों पर लागू होंगी। बढ़े हुए इस शुल्क पर इकोनॉमी क्लास में सफर करने वालों को 5% और अन्य क्लास वालों को 12% जीएसटी भी देना होगा।

इन जगहों से सफर करने वालों नहीं देना होगा जीएसटी
- एअर इंडिया ने कहा है कि अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, त्रिपुरा, असम, मणिपुर, मेघालय, नगालैंड, सिक्कम और पश्चिम बंगाल के बागडोगरा एयरपोर्ट से सफर करने वालों या वहां जाने वालों से बढ़ाए गए शुल्क पर जीएसटी नहीं लिया जाएगा।

51 हजार करोड़ के कर्ज में डूबी है एअर इंडिया

- एअर इंडिया का घाटा लगातार 8 साल से बढ़ता रहा और 51 हजार करोड़ रुपए पहुंच गया। हालांकि 2015-16 में एयरलाइंस ने 105 करोड़ के मुनाफे की जानकारी दी लेकिन कैग ने जनवरी 2017 की रिपोर्ट में इसे 321 करोड़ का घाटा माना।

सरकार 76% हिस्सा बेचना चाहती है

- एअर इंडिया को लगातार हो रहे घाटे को देखते हुए सरकार इसकी 76% हिस्सेदारी बेचना चाहती है। इसके लिए मौजूदा वित्त वर्ष में 80 हजार करोड़ रुपए के विनिवेश का लक्ष्य रखा गया था। सरकार ने बोली लगाने की आखिरी तारीख 31 मई तय की थी, लेकिन इसे कोई खरीदार नहीं मिला।

एअर इंडिया अभी तय सीमा से अधिक भार ले जाने पर 400/प्रति किलो के हिसाब से शुल्क लेती है। -फाइल एअर इंडिया अभी तय सीमा से अधिक भार ले जाने पर 400/प्रति किलो के हिसाब से शुल्क लेती है। -फाइल
X
सरकार एअर इंडिया के घाटे की भरपाई के लिए इसकी 76 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिल रहा है। -फाइलसरकार एअर इंडिया के घाटे की भरपाई के लिए इसकी 76 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है, लेकिन कोई खरीदार नहीं मिल रहा है। -फाइल
एअर इंडिया अभी तय सीमा से अधिक भार ले जाने पर 400/प्रति किलो के हिसाब से शुल्क लेती है। -फाइलएअर इंडिया अभी तय सीमा से अधिक भार ले जाने पर 400/प्रति किलो के हिसाब से शुल्क लेती है। -फाइल
Astrology

Recommended

Click to listen..