Hindi News »National »Latest News »National» Daati Maharaj Case Victim Narrating Her Two-Year Ordeal

दाती महाराज पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने बयां की आपबीती

पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज बयान और पुलिस के नाम लिखे लेटर में अपने साथ हुए अत्याचार की पूरी कहानी बयां की है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 13, 2018, 12:21 AM IST

दाती महाराज पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने बयां की आपबीती, national news in hindi, national news
  • दाती महाराज पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला की आपबीती।
  • पीड़िता ने स्टेटमेंट और पुलिस को लिखे लेटर टॉर्चर की पूरी कहानी बयां की।
  • महिला ने अपने और परिवार के लिए सुरक्षा मांगी।


नई दिल्ली.दिल्ली के शनिधाम के संस्थापक दाती महाराज के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाने वाली पीड़िता ने सुरक्षा मांगी है। जान को खतरे के चलते महिला अपने परिवार के साथ एनसीआर में जगह बदल-बदलकर रह रही है। करीब डेढ़ दशक से पीड़िता और उसका परिवार दाती महाराज का अनुयायी रहा है। पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज बयान और पुलिस के नाम लिखे लेटर में अपने साथ हुए अत्याचार की पूरी कहानी बयां की है।

- एनबीटी की रिपोर्ट में लेटर का हवाला देते लिखा, पीड़िता ने उस रात का जिक्र करते हुए बताया कि उसे चरण सेवा के नाम पर उस रात सफेद कपड़े पहनाए गए थे। उसे एक अंधेरे गुफा जैसे कमरे में भेजा गया था।
- पीड़िता जब यहां पहुंची को मदनलाल राजस्थानी यानी दाती महाराज ने कहा, ''मैं तुम्हारा प्रभु हूं। फिर भला क्यों इधर-उधर भटकना। मैं सब वासना खत्म कर दूंगा।''
- पीड़िता ने कहा कि मैंने उस दिन खुद को कैद में पाया। उस रात रोने के अलावा कुछ नहीं था। वहां से बाहर निकलने के बाद जब मैंने मुझे अंदर भेजने वाले से सारी बातें कहीं, जो उसका जवाब था कि जो भी हुआ वो सभी करते हैं।
- पीड़िता ने बताया कि मेरे साथ दाती ने अपने सहयोगी श्रद्धा उर्फ नीतू, अशोक, अर्जुन और नीमा जोशी के साथ मिलकर 9 जनवरी 2016 को दिल्ली स्थित आश्रम शनितीर्थ में रेप किया।
- ये सब तब हुआ जब मुझे चरण सेवा के लिए नीतू दाती महाराज के पास ले गई थी। उस रात मैं सिर्फ दर्द से कराहती और चीखती-चिल्लाती रही।
- पीड़िता ने आगे कहा कि यही सब मेरे साथ फिर 26, 27, 28 मार्च 2016 को राजस्थान स्थित पाली के गुरुकुल में दोहराई गई। नीतू और अनिल नाम के एक शख्स ने इसे अंजाम देने में पूरा सहयोग दिया।
- पीड़िता के लेटर के मुताबिक, दाती महाराज के बाद अनिल ने भी मेरे साथ यही सब किया। चरण सेवा के नाम पर मेरा शरीर जानवरों की तरह नोंचा गया।
- पीड़िता ने बताया कि इन सबके बाद नीतू हमेशा कहती, कि इससे तुम्हें मोक्ष प्राप्त होगा। यह भी सेवा ही है। तुम बाबा की हो और बाबा तुम्हारे। तुम कोई नया काम नहीं कर रही हो, सब करते आए हैं। कल हमारी बारी थी, आज तुम्हारी बारी है, कल पता नहीं किसकी होगी। बाबा समंदर हैं और हम सब उसकी मछलियां हैं। इसे कर्ज समझकर चुका लो।

सुरक्षा की मांग
एनबीटी की रिपोर्ट में दी पीड़िता की चिट्ठी में कहा गया है- ''मेरी एक ही इच्छा है कि इसके कर्मों की सजा फांसी होनी चाहिए। आपसे यह प्रार्थना है कि मेरा नाम, मेरी पहचान, मेरा पता गुप्त रखा जाए। वरना उसके द्वारा दी गईं धमकियां सच हो जाएंगी, जिसकी वजह से आज तक चुप रही। मुझे और मेरे परिवार को सुरक्षा प्रदान की जाए, अगर मुझे सुरक्षा नहीं दी गई तो यह तय है, न मैं रहूंगी, न मेरा परिवार रहेगा। सबकुछ खत्म हो जाएगा। दाती मदनलाल राजस्थानी बहुत खतरनाक है।''

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×