--Advertisement--

दाती महाराज दिल्ली क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचा, शिष्या के साथ दुष्कर्म के आरोप में होनी है पूछताछ

दुष्कर्म का केस दर्ज होने के बाद दाती मदन गायब था।

Dainik Bhaskar

Jun 19, 2018, 04:09 PM IST
शिष्या का आरोप है कि दाती मदन न शिष्या का आरोप है कि दाती मदन न

नई दिल्ली/पाली. शिष्या से दुष्कर्म मामले में 3 दिन से भूमिगत चल रहे दाती मदन मंगलवार को अचानक दिल्ली पुलिस के चाणक्यपुरी स्थित क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंच गए। उनके साथ वकील पीसी पांडे और दो अन्य लोग थे। दाती से करीब 7 घंटे तक पूछताछ की गई और करीब 100 सवाल दागे गए। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई। दाती महाराज दोपहर करीब 3 बजे क्राइम ब्रांच पहुंचे थे। रात 10 बजे उन्हें छोड़ दिया गया। दाती ने पूछताछ में कहा कि खुद को दुष्कर्म पीड़िता बता रही युवती बेटी के समान है। उन्हें बदनाम करने और फंसाने के इरादे से आरोप लगाए गए हैं। पुलिस दाती महाराज के कुछ जवाबों से संतुष्ट नहीं है।

शुक्रवार को फिर बुलाया

दाती को पूछताछ के लिए शुक्रवार को फिर बुलाया गया है। दूसरे चरण में अन्य आरोपियों से पूछताछ होगी।

अचानक इसलिए प्रकट हो गए दाती

बताया जा रहा है कि दाती दिल्ली के ही पांच सितारा होटल में ठहरे हैं। उन्हें बुधवार को पूछताछ के लिए पेश होना था। लेकिन दिल्ली के साकेत कोर्ट ने इस मामले में पुलिस से 21 जून तक रिपोर्ट मांगी है। इसे देखते हुए पुलिस ने मंगलवार को ही दाती को उनके वकील के जरिये पूछताछ के लिए बुला लिया।

दाती से पूछे गए कुछ चुनिंदा सवाल

Q. आप 25 साल की दुष्कर्म पीड़िता को कैसे जानते हैं?

A. वह दस साल पहले राजस्थान के पाली में आलावास स्थित गुरुकुल में रहने के लिए आई, तब से।

Q. आप पर युवती ने दुष्कर्म का संगीन इल्जाम लगाया है?

A. एकदम झूठा आरोप है। मेरे खिलाफ साजिश रची गई है, जिसमें इस बेटी को मोहरा बनाया गया है।

Q. कौन आपके खिलाफ साजिश रच रहा है?

A. वो लोग, जो मेरे आगे बढ़ते कदम से खुश नहीं हैं।

Q. युवती ने कहा कि आपने और आपके भाइयों ने राजस्थान और दिल्ली के शनिधाम में दुष्कर्म और कुकर्म किया?

A. मैं इस बात से हैरान-परेशान हूं। जिस लड़की ने मुझे एक पिता का दर्जा दिया, वो आज मुझे इस तरह क्यों बदनाम करने में लगी है।

Q. अगर आपने दुष्कर्म नहीं किया तो फिर पुलिस की जांच से क्यों बच रहे थे?

A. मैंने जांच में शामिल होने से कभी इनकार नहीं किया। कानून पर मुझे पूरा भरोसा है। आरोप लगने के पहले दिन ही मैंने तफ्तीश में पूरा सहयोग करने का भरोसा दिया था, जिस वजह से आज मैं यहां पर हूं। कुछ ऐसे काम थे, जिन्हें मैं पहले पूरा कर लेना चाहता था।

Q. वो निजी काम क्या थे?

A. इसे मैं नहीं बता सकता।

Q. पीड़िता के आरोप लगाने के बाद आपने उसे जान से मरवाने की धमकियां भी दिलवाईं?

A. नहीं, ऐसा कुछ नहीं है। अगर आरोप सच होते तो दो साल पहले ही सामने आ जाते।

Q. आप युवती से फोन पर बात करते थे क्या?

A. नहीं। पुलिस इन जवाबों का विश्लेषण करेगी और उन्हें वेरीफाई किया जाएगा।

डर के मारे पीड़िता ने 2 साल तक शिकायत नहीं की

लड़की ने शिकायत में कहा है कि शनिधाम के अंदर दो साल पहले दाती मदन ने उसका यौन शोषण किया। समाज में बदनामी और डर की वजह से उसने पहले शिकायत नहीं की। पुलिस ने दाती महाराज पर 376 (दुष्कर्म), 377 (अप्राकृतिक यौन संबंध), 354 (छेड़छाड़) की धाराएं लगाई हैं। दाती मदन शनिधाम का संस्थापक है। उसका जन्म 10 जुलाई, 1950 को अलवर (राजस्थान) में हुआ। बताया जाता है कि वह 7 साल की उम्र में संत बना।

भविष्य बताने के लिए चर्चित है बाबा

दाती मदन चैनलों पर राशिफल और ज्योतिष से जुड़े कार्यक्रमों में नजर आता है। दक्षिणी दिल्ली के फतेहपुर बेरी में उसका आश्रम है। कई नामी हस्तियां यहां पहुंचती हैं। दाती पंचांग और राशिफल से जुड़े वीडियो और अन्य जानकारियां सोशल मीडिया पर पोस्ट करता है। उसके फेसबुक पेज को 34 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

X
शिष्या का आरोप है कि दाती मदन नशिष्या का आरोप है कि दाती मदन न
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..