• Home
  • National
  • Deadline for filing tax returns extended till August 31
--Advertisement--

सरकार ने इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की तारीख 31 अगस्त तक बढ़ाई, पहले 31 जुलाई थी

सरकार ने पिछले साल भी आखिरी वक्त में आईटीआर दाखिल करने की समय-सीमा बढ़ाई थी

Danik Bhaskar | Jul 31, 2018, 06:55 PM IST

नई दिल्ली. सरकार ने वेतनभोगियों कर दाताओं को राहत दी है। उसने गुरुवार को इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने की तारीख 31 अगस्त तक बढ़ा दी। इससे पहले आईटीआर जमा करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई थी। वित्त मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है, 'कुछ श्रेणी के कर दाताओं के लिए असेसमेंट ईयर 2018-19 के इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की तारीख 31 जुलाई थी। हालांकि, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने इस मामले में विचार करते हुए यह समय सीमा 31 जुलाई से बढ़ाकर 31 अगस्त कर दी है।"

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2017-18 के दौरान 6.84 करोड़ लोगों ने आईटीआर दाखिल किए थे। वहीं 2016-17 में यह आंकड़ा 5.43 करोड़ ही था। सरकार को उम्मीद है कि इस साल आईटीआर रिटर्न करने वालों की संख्या पिछले साल से कहीं ज्यादा होगी।


10 हजार तक का लग सकता है जुर्मानाः पिछले साल तक देर से आईटीआर दाखिल करने पर कोई जुर्माना नहीं लगता था, लेकिन इस साल से जुर्माने का नियम लागू किया गया है। सरकार ने आयकर अधिनियम में नई धारा 234एफ जोड़ी है। यह धारा कहती है कि तय समय-सीमा के बाद आईटीआर दाखिल करने वालों को 139(1) में बताए गए नियमों के आधार पर 10,000 रुपए तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है।