Hindi News »National »Ayodhya Vivad »Latest News» Delhi Ncr Air Quality Poor Dust And Haze

दिल्ली में सांस लेना दूभर, प्रदूषण सामान्य से आठ गुना ज्यादा हुआ, अब बारिश ही ला सकती है राहत

PM 2.5 का लेवल सामान्य से 4 गुना बढ़ गया है जबकि PM10 का लेवल सामान्य से 8 गुना ज्यादा हो गया है।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 14, 2018, 03:02 PM IST

    • मंगलवार और बुधवार को दिल्ली में कई जगहों पर सामान्य से 18 गुना तक ज्यादा प्रदूषण रहा।
    • दिल्ली में आज हवाएं 35 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने का अनुमान।

    नई दिल्ली:भीषण गर्मी के बाद धूल और धुंध ने दिल्ली और एनसीआर में रहने वालों का जीना मुहाल कर दिया है। धुंध की वजह से दिल्ली में लगातार तीसरे दिन प्रदूषण गंभीर स्तर तक पहुंच गया। अगले दो दिन तक इससे राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। मौसम विभाग के अनुसार 17 जून को बारिश हो सकती है। इसके बाद ही धूल और प्रदूषण से राहत मिल सकती है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने लोगों को ऐसी स्थिति में घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है।

    इसलिए खराब हुई हवा
    - ईरान-दक्षिण अफगानिस्तान की तरफ से धूल भरी हवाएं 20 हजार फीट की ऊंचाई से राजस्थान से होते हुए दिल्ली में दस्तक दे रही हैं। इससे वातावरण में धूल छा गई है। अगले दो दिन तक दिल्ली में ऐसे ही हालात रहेंगे।

    लगातार तीसरे दिन दिल्ली में प्रदूषण गंभीर स्तर पर
    -केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने बताया कि दिल्ली में कई जगहों पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 500 के पार पहुंच गया है। इसे लेवल को गंभीर स्तर माना जाता है। PM 2.5 का लेवल सामान्य से 4 गुना बढ़ गया है जबकि PM10 का लेवल सामान्य से 8 गुना ज्यादा हो गया है। PM2.5 और PM10 हवा में घुले छोटे धुलकणों को बोलते हैं

    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: delhi mein saans lenaa dubhar, prdusn saamaany se aath gaunaa jyada hua, ab baarish hi laa skti hai raaht
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)
    Reader comments

    More From Latest News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×