Hindi News »National »Utility» How To Start Tulsi Farming

15 हजार लगाकर किसान ने कमाए 3 लाख रु., आप भी कर सकते हैं तुलसी की खेती

1 बीघा पर खर्चा 1500 रुपए आया। इस तरह से 10 बीघा जमीन पर फसल लगाने पर कुल लागत 15 हजार रुपए आई।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 10, 2018, 12:04 AM IST

15 हजार लगाकर किसान ने कमाए 3 लाख रु., आप भी कर सकते हैं तुलसी की खेती

न्यूज डेस्क। औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का पौधा अधिकांश घरों में होता है। इसकी पूजा भी की जाती है। आप चाहें तो तुलसी की खेती कर मोटी कमाई भी कर सकते हैं। कॉस्मेटिक्स प्रोडक्ट्स के साथ ही दवाई बनाने वाली कंपनियों को इसकी जरूरत होती है। उज्जैन के एक किसान ने 10 बीघा जमीन में 10 किलो बीज की बुवाई की थी। लागत का खर्चा 15 हजार रुपए आया और मुनाफा ढाई लाख रुपए से ज्यादा का रहा। आप भी चाहें तो तुलसी की खेती कर अच्छी कमाई कर सकते हैं।

3 माह में फसल हो जाती है तैयार
- किसान अनोखीलाल पाटीदार ने 10 बीघा खेत में तुलसी की खेती की। 10 बीघा जमीन में फसल 3 माह में तैयार हो गई।
- 1 बीघा पर खर्चा 1500 रुपए आया। इस तरह से 10 बीघा जमीन पर फसल लगाने पर कुल लागत 15 हजार रुपए आई।
- किसान ने फसल को 3 लाख रुपए में बेचा। इस तरह 2 लाख 85 हजार रुपए की कमाई हुई।

कब करें खेती?
- जुलाई तुलसी के पौधे को खेत में लगाने का सबसे सही समय होता है।
- पौधे 45 गुणा 45 सेंटीमीटर के डिस्टेंस पर लगाए जाना चाहिए।
- वहीं RRLOC 12 और RRLOC 14 किस्म के पौधे 50 गुणा 50 सेंटीमीटर के डिस्टेंस पर लगने चाहिए।
- पौधों को लगाने के तुरंत बाद हल्की सिंचाई करना जरूरी है।
- हफ्ते में कम से कम एक बार या जरूरत के अनुसार पानी देना होता है।
- एक्सपर्ट्स के अनुसार, कटाई से 10 दिन पहले सिंचाई देना बंद कर देना चाहिए।

गोबर खाद डालना फायदेमंद
- 200 से 250 क्विंटल गोबर की खाद या कम्पोस्ट को जुताई के समय खेत में बराबर मात्रा में डालना चाहिए।
- इसके बाद ही जुताई करना चाहिए। इससे खाद अच्छी तरह से मिट्टी में मिल जाती है।
- खेत में आखिरी जुताई करते समय 100 किलोग्राम यूरिया, 500 किलोग्राम सुपर फास्फेट और 125 किलो म्यूरेट ऑफ पोटाश को एक हेक्टेयर के हिसाब से भूमि में मिला दें।

- यूरिया की खाद को ऐसे डालना चाहिए जिससे यह पौधे की पत्तियों पर न जाए।

कब होती है कटाई
- जब पौधों की पत्तियां हरे रंग की होने लगती हैं, तभी इनकी कटाई शुरू की जाती है। सही समय पर कटाई करना जरूरी है। ऐसा न करने पर तेल की मात्रा पर इसका असर होता है।

- पौधे पर फूल आने के कारण भी तेल मात्रा कम हो जाती है, इसलिए जब पौधे पर फूल आना शुरू हो जाएं, तब इनकी कटाई शुरू कर देना चाहिए।

- जल्दी नई शाखाएं आ जाएं, इसलिए कटाई 15 से 20 मीटर ऊंचाई से करनी चाहिए।

कितना आता है खर्चा
- 1 बीघा जमीन पर खेती करते हैं तो 1 किलो बीज की जरूरत होगी। 10 बीघा जमीन पर 10 किलो बीज लगेंगे। इसकी कीमत 3 हजार रुपए के करीब होगी।

- 10 से 15 हजार रुपए की खाद लगेगी।
- सिंचाई का इंतजाम करना होगा।
- एक सीजन में 8 क्विंटल तक पैदावार होती है। मार्केट में इसका प्राइस ढाई से 3 लाख रुपए तक है।
- मंडी में 30 से 40 हजार रुपए प्रति क्विंटल के भाव तक तुलसी के बीज बिक जाते हैं।

कैसे बेचें माल
- आप मंडी एजेंट्स के जरिए अपना माल बेच सकते हैं।
- सीधे मंडी में जाकर भी खरीददारों से संपर्क कर सकते हैं।
- कॉन्ट्रेक्ट फॉर्मिंग करवाने वाली दवा कंपनियों या एजेंसियों के जरिए खेती करें और इन्हें ही माल बेचें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Utility

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×