इन दस्तावेजों को रखें तैयार, 31 जुलाई तक नहीं भरा ITR तो लगेगा पांच हजार का जुर्माना

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली. अगर आप जुलाई के आखिरी तक आईटीआर दाखिल करने की सोच रहे हैं तो आपको कुछ दस्तावेज जुटाकर रख लेने चाहिए। क्योंकि जल्दबाजी में ऐसा करना आसान नहीं होता। दिल्ली के चार्टेड एकाउंटेंट राघव खुराना बताते हैं 31 जुलाई तक ITR ना भरने पर आगे पांच हजार रुपए जुर्माने के साथ आपको ITR दाखिल करना होगा। चार्टर्ड अकाउंटेंट राघव खुराना बता रहे कि ITR भरते समय आपको कौन से डॉक्यूमेंट्स तैयार रखने होंगे: 

 

कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट्स पर एक नजर

डॉक्यूमेंट डेडलाइन नहीं देने पर क्या होगा?
पैन कार्ड 31 जुलाई 10 दिनों के भीतर बनवा सकते हैं। 
इंश्योरेंस डिटेल 31 जुलाई पॉलिसी नंबर से डिटेल निकल आएगी।
म्युच्युअल फंड डिटेल 31 जुलाई ई- स्टेटमेंट निकाल लें।
बैंक अकाउंट्स डिटेल 31 जुलाई ई- बैंकिंग स्टेटमेंट निकाल लें।
छोटी बचत योजनाओं की डिटेल 31 जुलाई ई- स्टेटमेंट निकाल लें।
बाइल /सिम वेरीफिकेशन 31 जुलाई मोबाइल नंबर आधार से लिंक है। 
टैक्स में छूट दिलाने वाले डॉक्यूमेंट  31 जुलाई सभी कागजात जमा कर लें।

कुछ दस्तावेज नौकरीपेशा और कारोबारी दोनों के लिए जरूरी हैं -

 

- इनकम टैक्स फाइल भरने से पहले आपको अपने निवेश के सभी दस्तावेज जुटा लेने चाहिए। 
- आपको अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड, जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर व्यवस्थित कर लेना चाहिए। 
- अगर आपकी कई संपत्तियां हैं तो उसके दस्तावेज, विदेश में संपत्ति है तो उसके भी दस्तावेज इक्टठे कर लेने चाहिए। 
- अब अपनी आमदनी से जुड़े सभी दस्तावेजों को जुटा लेना चाहिए। 
- इसके बाद आपने कहां-कहां निवेश किया है और इससे जो भी लाभांश मिल रहा है उसके दस्तावेज जुटा लें। 
- आपने टैक्स में छूट के लिए जो  निवेश किया है उसके कागजात अपने पास रखें। 

 

2. कारोबारी हैं तो ये कागजात रखें तैयार 


- बैलेंसशीट, घाटे-मुनाफे का अकाउंट स्टेटमेंट, ऑडिट रिपोर्ट ITR भरने से पहले जुटा लें। 
- शहर से बाहर के सभी बैंक खातों की जानकारी भी अपने पास रख लें। 
- अपने खातों की ई-बैंक स्टेटमेंट डाउनलोड़ कर लें। 
- इसके बाद आप पिछले साल दिए गए टैक्स की रसीदों को जमा कर लें। जैसे इनकम टैक्स रिटर्न, टीडीएस आदि। 
- अगर आपने किसान विकास पत्र, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम ले रखी है तो इसके दस्तावेज जुटा लें। 
- पिछले वित्त वर्ष में कोई प्रापर्टी खरीदी है तो उसके कागजात, मकान किराए में दिया है तो उसके कागजात रखें।
- होम लोन लेकर मकान खरीदा है तो उसके कागजात रखें। 
- किसी व्यक्ति या ट्रस्ट को छोटा-बड़ा कोई दान दिया है तो उसकी रसीद रखें। 

 

खबरें और भी हैं...