• Hindi News
  • National
  • 9 Year Old Girl Murder Surat Case, सूरत मर्डर केस, सूरत रेप केस
--Advertisement--

गुजरात के सूरत में 9 साल की बच्ची का रेप-मर्डर, पुलिस ने पहचान के लिए 8 हजार लापता बच्चों के फोटो खंगाले

पुलिस को शक है कि बच्ची ओडिशा की हो सकती है। स्पेशल सेल ने इस बारे में ओडिशा के डीजीपी से जानकारी मांगी है।

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 09:07 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

सूरत. गुजरात के सूरत में 9 साल की बच्ची से रेप और मर्डर के मामले में पुलिस की तफ्तीश तेज हो गई है। बच्ची की पहचान करने के लिए पुलिस ने करीब 8 हजार ऐसे बच्चों के फोटो खंगाले हैं जो पुलिस रिकॉर्ड में लापता के तौर पर दर्ज हैं। पुलिस को शक है कि बच्ची ओडिशा की हो सकती है। इसलिए, गुजरात पुलिस की स्पेशल सेल ने इस बारे में ओडिशा के डीजीपी से जानकारी मांगी है। जानकारी के मुताबिक, बच्ची की उम्र 9 से 11 साल के बीच हो सकती है। बता दें कि बच्ची का शव 6 अप्रैल को बरामद किया गया था। उसके परिवार के बारे में भी अब तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

शरीर पर चोट के निशान
- गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने माना है कि बच्ची की निर्ममता से हत्या की गई है। उसके शरीर पर चोट के 86 निशान हैं। उन्होंने कहा- बच्ची की हत्या गला घोंटकर की गई। उसे कम से कम आठ दिन तक टॉर्चर किया गया। हालांकि, पुलिस इस बात से इनकार नहीं कर रही है कि ये बच्ची गुजरात की भी हो सकती है।
- सूरत के पुलिस कमिश्नर सतीश शर्मा ने कहा- जिस क्षेत्र में बच्ची का शव बरामद किया गया है वो इंडस्ट्रियल एरिया है। यहां कई ऐसे मजदूर काम करते हैं जो ओडिशा के रहने वाले हैं। इसलिए, हमने गुजरात पुलिस से भी इस बारे में संपर्क किया है।
- सूरत में इस घटना को लेकर आम लोगों में काफी रोष है। उन्होंने घटना पर कैंडल मार्च भी निकाला।

होम मिनिस्टर ने क्या कहा?
- गुजरात सरकार इस घटना पर काफी सख्त नजर आ रही है। पुलिस के साथ होम मिनिस्टर प्रदीप सिंह जडेजा लगातार मीटिंग कर रहे हैं। उन्होंने मीडिया से इस बारे में बात की। कहा- हम अब तक बच्ची के परिवार के बारे में जानकारी हासिल नहीं कर पाए हैं। उसके कई पोस्टर्स छपवाकर अलग-अलग जगहों पर लगाए गए हैं। हमें शक है कि वो ओडिशा की हो सकती है। इसलिए, ओडिशा के डीजीपी से इस बारे में बात की गई है। हम उस इलाके के तमाम सीसीटीवी फुटेज और कॉल रिकॉर्ड्स भी खंगाल रहे हैं। अब तक 8 हजार लापता बच्चों के फोटो से बच्ची के मिलान की कोशिश की गई है। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि बच्ची के साथ न्याय जरूर होगा।

X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..