सावधान ! इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के फील्ड ऑफिसर रख रहे हैं आपकी शादी, बर्थ डे पार्टी पर रखेगा नजर

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल. आयकर विभाग ने अपनी आय को बढ़ाने के लिए नया तरीका निकाल लिया है। नया तरीका यह है कि आयकर विभाग आपकी हर तरह की आर्थिक गतिविधियों पर नजर रखेगा। आप कहां कितना खर्च कर रहे हैं इससे विभाग को अंदाजा हो जाता हैं कि आपकी वार्षिक आय कितनी है ? बीते साल देशभर में आयकर जुटाने में सर्वाधिक वृद्धि (34.90 फीसदी) हुई है। जिसके बाद मध्य प्रदेश के आयकर विभाग इंदौर रीजन ने 2018-19 में भी सर्वाधिक आयकर जमा करने और करदाताओं की संख्या बढ़ाने के लिए रणनीति पर काम शुरू कर दिया है।


2704 करोड़ जुटाने का मिला है लक्ष्य
इंदौर के मुख्य आयकर आयुक्त अजय चौहान ने कहा कि इस साल केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) से हमें 2704 करोड़ रुपए जमा करने का लक्ष्य मिला है। इस लक्ष्य प्राप्ति के लिए विभाग अंदरूनी सभी सूचनाओं (बैंक खाते की जानकारी, रजिस्ट्री और अन्य खरीदी) के साथ ही इस बार बाहर से मिलने वाली सूचनाओं पर भी कार्रवाई करेगा।

 

आय-व्यय की पूरी जानकारी दें

भास्कर से चर्चा में चौहान ने कहा कि बाहर का मतलब जिस तरह शादी-ब्याह में काफी खर्च होते हैं, भव्य तरह से जन्मदिन या अन्य आयोजन मनाए जाते हैं, इन पर विभाग के फील्ड ऑफिसर नजर रख रहे हैं। चौहान ने कहा कि बहुत सारे लोग जो नौकरीपेशा नहीं हैं उनकी आय पांच लाख रुपए से भी ज्यादा है। इसके कई स्त्रोत हो सकते हैं। लेकिन ऐसे करदाता आय के बारे में इनकम टैक्स विभाग को सही जानकारी नहीं देते। उसके लिए विभाग भी चौकन्ना हो गया है।


गुप्त सूचना पर होगा कार्रवाई
आयकर विभाग के पास कोई गोपनीय सूचना आती है या सोशल मीडिया, समाचार पत्रों से कोई खबर आती है। ऐसे में विभाग इनकी जानकारी जुटाकर देखेगा कि संबंधित का रिटर्न कितने का है ? और वह खर्च किस तरह से कर रहा है। चौहान ने यह भी बताया कि आयकर विभाग और अन्य राजस्व विभागों के बीच जानकारियों और रिटर्न का भी आदान-प्रदान होगा। इसे भी क्रॉस चेक किया जाएगा और रिटर्न मिसमैच होने पर कार्र‌वाई की जाएगी। 


31 जुलाई का ना करें इंतजार
जो करदाता 31 जुलाई तक इनकम फाइल करने का मूड बना रहे हैं उनको सर्वर धोखा भी दे सकता है। इसलिए अंतिम तारीख से पहले आईटीआर भरने का प्रयास करें। चौहान ने मीडिया से चर्चा में कहा कि सामान्य करदाताओं के लिए रिटर्न भरने की अंतिम तारीख 31 जुलाई है। देरी पर पांच हजार रुपए पेनल्टी का भी प्रावधान हो गया है।

 

खबरें और भी हैं...