Hindi News »National »Ayodhya Vivad »Latest News» ISRO Tests Crew Escape System For Human Spaceflight

मानव मिशन की तैयारी: स्पेस फ्लाइट से यात्रियों को सुरक्षित निकालने का इसरो का 259 सेकंड का टेस्ट कामयाब

गुरुवार सुबह 7 बजे लॉन्चिंग पैड से टेस्टिंग मॉड्यूल छोड़ा गया

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jul 05, 2018, 05:56 PM IST

  • मानव मिशन की तैयारी: स्पेस फ्लाइट से यात्रियों को सुरक्षित निकालने का इसरो का 259 सेकंड का टेस्ट कामयाब
    +2और स्लाइड देखें
    गुरुवार सुबह 7 बजे श्रीहरिकोटा से टेस्टिंग मॉड्यूल छोड़ा गया।
    • इसरो ने मानव अंतरिक्ष मिशन के लिए किया परीक्षण
    • 300 सेंसर्स ने परीक्षण रिकॉर्ड किया

    चेन्नई.भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने गुरुवार को एक ऐसे मॉड्यूल का कामयाब परीक्षण किया, जिसके जरिए स्पेस फ्लाइट से अंतरिक्ष यात्रियों को सुरक्षित निकालने में इस्तेमाल किया जा सकेगा। इसरो के मुताबिक, इस मॉड्यूल को स्पेस फ्लाइट के साथ जोड़कर भेजा जाएगा। किसी भी तरह का हादसा होने की स्थिति में यह मॉड्यूल स्पेसक्राफ्ट से अलग हो जाएगा और पैराशूट के जरिए पानी या जमीन तक पहुंच जाएगा।

    पहले परीक्षण में लॉन्चिंग पैड से छोड़े गए स्पेसक्राफ्ट में इंसानों की जगह इस मॉड्यूल का इस्तेमाल किया गया। इसके तहत 12.6 टन भारी मॉड्यूल को श्रीहरिकोटा (आंध्र प्रदेश) स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से गुरुवार सुबह 7 बजे छोड़ा गया। यह टेस्ट करीब 259 सेकंड चला। लॉन्चिंग के बाद टेस्टिंग मॉड्यूल कुछ देर तक हवा में रहा और बंगाल की खाड़ी में गिरने के बाद पानी में 2.9 किलोमीटर की दूरी तय करके श्रीहरिकोटा पहुंच गया। करीब 300 सेंसर्स ने परीक्षण को रिकॉर्ड किया। इस दौरान 3 रिकवरी बोट भी तैनात की गई थीं।

    मिशन में अहम भूमिका निभाएगा ऐसा मॉड्यूल :इसरो ने बताया कि यह मॉडयूल भारत के स्वदेशी मानव अंतरिक्ष मिशन में अहम भूमिका निभाएगा। इस टेस्ट में यह देखने की कोशिश की गई कि स्पेस फ्लाइट के दौरान अप्रत्याशित घटना या दुर्घटना के वक्त क्रू को कैसे सुरक्षित बाहर निकाला जा सकता है। पहला टेस्ट लॉन्चिंग पैड पर किया गया। देश के पहले मानव अंतरिक्ष मिशन के लिए इस प्रयोग की तरह कई सुरक्षा उपायों की जरूरत होगी, जिनका परीक्षण भविष्य में किया जाएगा।

  • मानव मिशन की तैयारी: स्पेस फ्लाइट से यात्रियों को सुरक्षित निकालने का इसरो का 259 सेकंड का टेस्ट कामयाब
    +2और स्लाइड देखें
    यह मॉड्यूल कुछ देर हवा में उड़ता रहा।
  • मानव मिशन की तैयारी: स्पेस फ्लाइट से यात्रियों को सुरक्षित निकालने का इसरो का 259 सेकंड का टेस्ट कामयाब
    +2और स्लाइड देखें
    2.9 किमी की दूरी तय करके श्रीहरिकोटा पहुंचा।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Latest News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×