• Hindi News
  • National
  • kejriwal and ministers strike third day lg baijal office hunger strike news and updates
--Advertisement--

अफसरों की हड़ताल के खिलाफ आप की रैली में दिखा वाजपेयी के बारे में विवादित पोस्टर, भाजपा ने आपत्ति जताई

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के दफ्तर में अरविंद केजरीवाल अपने 3 मंत्रियों के साथ 4 दिन से धरना दे रहे हैं।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 02:25 PM IST
आप का आरोप है कि राज्यपाल अनिल बैजल मोदी सरकार के इशारों पर काम कर रहे हैं। आप का आरोप है कि राज्यपाल अनिल बैजल मोदी सरकार के इशारों पर काम कर रहे हैं।

  • केजरीवाल ने कहा- पीएमओ से हरी झंडी मिले बगैर आईएएस अफसरों का ड्यूटी पर लौटना संभव नहीं
  • आप ने कहा- दिल्ली में आपातकाल जैसे हालात

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी की रैली में बुधवार को अटल बिहारी वाजपेयी को लेकर एक विवादित पोस्टर कथित तौर पर नजर आया। इसमें लिखा है, 'दिल्ली मांगे अटल से पहले अनिल की छुट्टी'। इसमें अनिल के मायने उपराज्यपाल अनिल बैजल से हैं, जिन्हें हटाने की आप कार्यकर्ता लगातार मांग कर रहे हैं। इस रैली के साथ-साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और मंत्री सत्येंद्र जैन उपराज्यपाल अनिल बैजल के दफ्तर में चार दिन से धरना दे रहे हैं।

पीएमओ से मिलता है आदेश

- बुधवार को केजरीवाल ने उपराज्यपाल ऑफिस से ही ट्वीट किया, "जानना चाहता हूं कि क्या आईएएस अफसरों का प्रधानमंत्री कार्यालय से हरी झंडी मिले बगैर ड्यूटी पर लौटना संभव है? क्या मोदी सरकार, दिल्ली सरकार के अच्छे कामों को रोकने के लिए आईएएस अफसरों का इस्तेमाल नहीं कर रही? दिल्ली के विकास में रोड़ा अटकाने वालों के खिलाफ संघर्ष करता रहूंगा।"

धरने के अलावा कोई विकल्प नहीं
- मंगलवार को केजरीवाल ने उपराज्यपाल ऑफिस से वीडियो जारी किया था। इसमें उन्होेंने कहा, "कि आप के मंत्रियों के पास इसके (धरने) अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है कि वे उपराज्यपाल कार्यालय में हड़ताल पर बैठ जाएं। उपराज्यपाल अनिल बैजल हमारे कई आवेदनों के बाद भी मांगें नहीं मान रहे।"

आप नेताओं ने राष्ट्रपति से मांगा मिलने का वक्त

- आप नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगा है। उन्होंने बताया कि वे राष्ट्रपति को दिल्ली के मौजूदा हालात और आईएएस अफसरों की हड़ताल के बारे में जानकारी देना चाहते हैं।
- इस पत्र में संजय सिंह ने लिखा है कि वे तीन सांसदों के साथ उपराज्यपाल से मिलना चाहते थे, लेकिन राजभवन ने समय नहीं दिया।
- संजय ने ये भी कहा कि दिल्ली में आपातकाल जैसे हालात हैं। दिल्ली सरकार का काम इसलिए प्रभावित है क्योंकि आईएसएस अफसर बीते 4 महीने से हड़ताल पर हैं। उपराज्यपाल तो मोदी सरकार के आदेश का पालन कर रहे हैं।

अटल होते तो दिल्ली की समस्या का हल खोजते
- आम आदमी नेताओं ने मुख्यमंत्री निवास से लेकर उपराज्यपाल के निवास तक मार्च निकाला। इसमें पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा भी शामिल हुए।
- सिन्हा ने कहा कि अगर अटल बिहारी वाजपेयी के वक्त इस तरह की समस्या आई होती तो वे गृह मंत्री को इसका समाधान खोजने को कहते। लेकिन मौजूदा केंद्र सरकार सो रही है। देश के लिए बेहतर यही होगा कि दिल्ली की समस्या का जल्द कोई हल तलाशा जाए।

अरविंद केजरीवाल और उनके मंत्रियों की उपराज्यपाल से तीन मांगें
पहली: दिल्ली सरकार में कार्यरत भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अफसरों की हड़ताल खत्म कराई जाए। दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर कथित मारपीट के बाद आईएएस पिछले करीब चार माह से हड़ताल पर हैं।

दूसरी: काम रोकने वाले आईएएस अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

तीसरी: राशन की दरवाजे पर आपूर्ति की योजना को मंजूर किया जाए।

केजरीवाल और उनके 3 मंत्री गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया सोमवार शाम को धरने पर बैठे थे। केजरीवाल और उनके 3 मंत्री गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया सोमवार शाम को धरने पर बैठे थे।
आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का वक्त मांगा है। आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का वक्त मांगा है।
X
आप का आरोप है कि राज्यपाल अनिल बैजल मोदी सरकार के इशारों पर काम कर रहे हैं।आप का आरोप है कि राज्यपाल अनिल बैजल मोदी सरकार के इशारों पर काम कर रहे हैं।
केजरीवाल और उनके 3 मंत्री गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया सोमवार शाम को धरने पर बैठे थे।केजरीवाल और उनके 3 मंत्री गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया सोमवार शाम को धरने पर बैठे थे।
आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का वक्त मांगा है।आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मिलने का वक्त मांगा है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..