• Hindi News
  • National
  • Malaysia Mahathir Mohamad to be sworn in as prime minister after historic poll win

मलेशिया: चुनाव में ऐतिहासिक जीत की हासिल, अब दुनिया के सबसे बुजुर्ग प्रधानमंत्री बनेंगे महातिर मोहम्मद / मलेशिया: चुनाव में ऐतिहासिक जीत की हासिल, अब दुनिया के सबसे बुजुर्ग प्रधानमंत्री बनेंगे महातिर मोहम्मद

मलेशिया के महातिर मोहम्मद (92) दुनिया में सबसे उम्रदराज प्रधानमंत्री होंगे।

DainikBhaskar.com

May 10, 2018, 12:34 PM IST
मलेशिया के महातिर मोहम्मद की पार्टी पाकातन हारपन ने 222 में से 113 सीटों पर जीत हासिल की। मलेशिया के महातिर मोहम्मद की पार्टी पाकातन हारपन ने 222 में से 113 सीटों पर जीत हासिल की।

  • महातिर 1976 में मलेशिया के डिप्टी पीएम बने थे, बाद में 1981 में हुसैन आन के इस्तीफे के बाद उन्होंने प्रधानमंत्री पद की जिम्मेदारी संभाली थी
  • आप जानते हैं कि देश में बहुत कुछ गड़बड़ चल रहा है, हमें जल्द से जल्द उस गड़बड़ी को चिन्हित कर खत्म करने की जरूरत हैः महातिर

कुआलालंपुर. मलेशिया में 92 वर्षीय महातिर मोहम्मद दुनिया में सबसे उम्रदराज निर्वाचित प्रधानमंत्री बन गए हैं। बुधवार को आए चुनाव परिणाम में उनके नेतृत्व वाले नेशनल फ्रंट गठबंधन ने चुनावों में ऐतिहासिक जीत हासिल की। महातिर ने गुरुवार रात प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। बता दें कि आम चुनावों में महातिर के नेतृत्व में विपक्षी गठबंधन ने करीब 6 दशकों से मलेशिया की सत्ता पर काबिज बारिसन नेशनल (बीएन) गठबंधन को शिकस्त दी है। मताहिर पहले भी 22 साल (1981 से 2003) तक मलेशिया के प्रधानमंत्री रह चुके हैं। तब वे बीएन गठबंधन का ही नेतृत्व कर रहे थे। हालांकि बाद में वे खुद ही पार्टी से अलग हो गए थे। तब उन्होंने कहा था कि वे भ्रष्टाचार का समर्थन करने वाली पार्टी का हिस्सा नहीं रह सकते हैं।

घोटाले से नजीब की छवि को नुकसान
- मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक के नेतृत्व वाले बीएन गठबंधन को इस चुनाव में जरदस्त शिकस्त मिली है।

- मलेशिया में जरूरी सामानों की कीमतों में वृद्धि व मलेशिया डेवलपमेंट बरहाद (1एमबीडी) घोटाले के चलते नजीब की छवि को झटका लगा था।

- 22 साल तक मलेशिया के प्रधानमंत्री रह चुके महातिर की प्रधानमंत्री पद पर अब अप्रत्याशित वापसी ने लोगों को चौंकाया है।

- ब्रिटेन से आजादी मिलने के बाद 1957 से ही मलेशिया की सत्ता पर बीएन गठबंधन काबिज थी।

बदला नहीं, कानून का शासन प्राथमिकताः महातिर
- जीत के बाद महातिर ने कहा कि हमें किसी तरह का बदला नहीं चाहिए, हम तो कानून का शासन लाना चाहते हैं।

- कुआलामंपुर के रॉयल पैलेस में हुए एक समारोह में उन्होंने शपथ ली। इससे पहले मलेशिया के राजा ने उनकी प्रधानमंत्री पद की नियुक्ति पत्र पर हस्ताक्षर किए थे।

- हार के बाद मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने कहा कि उन्हें जनता का फैसला स्वीकार्य है। उन्हें उम्मीद है कि संसद में नेशनल फ्रंट लोकतंत्र के सिद्धांतों का सम्मान करेगा।

- नजीब रजाक की कैबिनेट में शामिल एक सहयोगी ने कहा है कि वह जनता की इच्छा को स्वीकार करते हैं। महातिर के पक्ष में आए चुनावी परिणामों से मलेशिया के वित्तीय मार्केट में भी काफी उथल-पुथल देखने को मिली है।

नजीब के राजनीतिक गुरु भी रह चुके हैं महातिर

- चुनाव परिणामों के अनुसार, महातिर की पार्टी पाकातन हारपन ने 222 में से 113 सीटों पर जीत हासिल की।

- नजीब के नेतृत्व वाले बीएन गठबंधन सिर्फ 79 सीट पर जीत हासिल कर पाया है। महातिर नजीब के राजनीतिक गुरु भी रह चुके हैं।

- बाद में 1एमबीडी रिश्वत घोटाला के बाद वे अलग हो गए। ये घोटाला कथित तौर पर कई देशों से जुड़ा हुआ था। करीब छह देशों में इसकी जांच चल रही है। हालांकि, मलेशिया अटॉर्नी जनरल ने नजीब को क्लीन चिट दे दी थी।

- महातिर ने इस घोटाले की निष्पक्ष जांच का भी वादा किया है।

क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के नाम था रिकॉर्ड
- महातिर मोहम्मद इस समय 92 साल 304 दिन के हैं। उनसे पहले दुनिया का सबसे उम्रदराज नेता होने का रिकॉर्ड क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के नाम था। वे 92 साल 19 दिन की हैं। इस हिसाब से महातिर उनसे 285 दिन अधिक बुजुर्ग हैं।

महातिर मोहम्मद  ने कहा कि वह कानून का शासन लागू करेंगे। महातिर मोहम्मद ने कहा कि वह कानून का शासन लागू करेंगे।
X
मलेशिया के महातिर मोहम्मद की पार्टी पाकातन हारपन ने 222 में से 113 सीटों पर जीत हासिल की।मलेशिया के महातिर मोहम्मद की पार्टी पाकातन हारपन ने 222 में से 113 सीटों पर जीत हासिल की।
महातिर मोहम्मद  ने कहा कि वह कानून का शासन लागू करेंगे।महातिर मोहम्मद ने कहा कि वह कानून का शासन लागू करेंगे।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना