मॉब लिंचिंग: राहुल गांधी ने कहा- ये मोदी का क्रूर भारत; भाजपा का जवाब- आप नफरत के सौदागर

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अलवर में पिछले दिनों भीड़ ने 28 साल के अकबर को गोतस्कर समझकर पीट-पीटकर मार डाला
  • कांग्रेस का आरोप- सरकार मॉब लिंचिंग को बढ़ावा दे रही
  • राहुल ने कहा- भारत में इंसानियत की जगह नफरत ने ले ली

 

नई दिल्ली. अलवर की मॉब लिंचिंग घटना को राहुल गांधी ने मोदी का क्रूर भारत करार दिया। उन्होंने सोमवार को ट्वीट में कहा- "अलवर में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर घायल किए गए अकबर उर्फ रकबर खान को छह किलोमीटर दूर अस्पताल ले जाने में पुलिसकर्मियों ने तीन घंटे लगा दिए। ऐसा क्यों? क्या वे टीब्रेक के लिए रुके? यह मोदी का क्रूर भारत है, जहां इंसानियत की जगह नफरत ने ले ली। लोगों को कुचला जा रहा है और मरने के लिए छोड़ा जा रहा है।" भाजपा ने राहुल से कहा कि आप नफरत के सौदागर हैं। हर घटना पर राजनीति करना बंद करें।  
अलवर के पास रामगढ़ के गांव ललावंडी में शुक्रवार रात अकबर उर्फ रकबर मेव (28) को पीट-पीटकर कर मार दिया गया था। अकबर अपने साथी असलम के साथ गाय लेकर पैदल हरियाणा जा रहा था। खेतों में ग्रामीणों ने उन्हें घेर लिया। असलम तो बचकर भाग निकला, लेकिन भीड़ ने अकबर की लाठी-डंडों से हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर ललावंडी के धर्मेन्द्र यादव और परमजीत को गिरफ्तार किया है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा- बस बहुत हो चुका: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि राहुल गांधी, किसी भी अपराध पर खुशी मनाना बंद करें, सरकार पहले ही कड़ी कार्रवाई करने की बात कह चुकी है। आप (राहुल) हर मुद्दे पर समाज को बांटकर वोट बैंक की राजनीति शुरू कर देते हैं और घड़ियाली आंसू बहाते हैं। बस बहुत हो चुका। भाजपा ने एक कविता ट्वीट की- "70 साल प्यार का नाटक, बन्द करो ये झूठ का फाटक। गले लगाना आंख मारना, कैसे ये सब कर पाते हो। जब जब देश बदलना चाहे, तब तुम उसको भटकाते हो। ये देश है मेरा, फिल्म नहीं है, तुमको इसका इल्म नहीं है। 70 साल प्यार का नाटक, बन्द करो ये झूठ का फाटक।"

उद्धव ने कहा- ये हिंदुत्व नहीं है: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कहा कि भारत दुनिया में महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बन गया है। इसके लिए हमें शर्म करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें गाय माता की सुरक्षा करनी चाहिए, लेकिन यह हिंदुत्व नहीं है। गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा, 'केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को सख्त निर्देश दे दिए हैं। मॉब लिंचिंग के मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में ढील नहीं दी जाएगी। 

लोकसभा में हंगामा हुआ: लोकसभा और राज्यसभा में सोमवार को मॉब लिंचिंग मुद्दे पर हंगामा हुआ। राज्यसभा में सीपीआई नेता डी राजा ने मॉब लिंचिंग पर चर्चा के लिए कार्यस्थगन का नोटिस दिया। इससे पहले कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मॉब लिंचिंग पर कहा- सरकार ऐसी घटनाओं को बढ़ावा दे रही है। वह चाहती ही नहीं कि देश के हालात सुधरें।

 

खबरें और भी हैं...