Hindi News »National »Latest News »National» नरेंद्र मोदी, कर्नाटक चुनाव, Prime Minister Narendra Modi Campaigning In Karnataka

राहुल गांधी की संसद में बोलने की चुनौती पर मोदी का जवाब, बिना कागज देखे 15 मिनट बोलकर दिखाएं

नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कर्नाटक के चुनाव अभियान की शुरुआत चामराजनगर से की।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 01, 2018, 05:29 PM IST

    • बेंगलुरु.नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कर्नाटक के चुनाव अभियान की शुरुआत चामराजनगर से की। उन्होंने सीधे राहुल गांधी पर निशाना साधा। कहा कि वे कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ नाम के (नामदार) हैं, हम तो कामगार हैं। उनसे काम की अपेक्षा नहीं कर सकते। वे उडुपी और बेलगावी में भी रैलियां करेंगे। कर्नाटक चुनाव की तारीख के एलान के बाद से मोदी का ये पहला कर्नाटक दौरा है। उडुपी की रैली से पहले मोदी का कृष्ण मठ जाने का भी कार्यक्रम है। मोदी कर्नाटक में 15 से ज्यादा रैलियां करेंगे। कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों के लिए एक चरण में 12 मई को वोटिंग होगी। 15 मई को नतीजे आएंगे।


      आज मेहनतकश लोगों का दिन
      - मोदी ने कर्नाटक की रैली में कहा, ''दिल्ली में कर्नाटक के चुनाव की खबरें आती हैं कि यहां भाजपा की हवा चल रही है, लेकिन आज देखकर लग रहा है कि ये हवा नहीं आंधी है। हम कर्नाटक में बदलाव की हवा को बेकार नहीं जाने देंगे।''
      - ''आज 1 मई को गुजरात और कर्नाटक का स्थापना दिवस है। आज के दिन मजदूर दिवस भी मनाया जाता है। आज मेहनतकश लोगों का दिन है। उन लोगों ने अपने संकल्प के बल पर देश को कहां पहुंचाया है। मैं कारीगर और मजदूर भाइयों को आज का दिन समर्पित करना चाहता हूं।''

      राहुल गांधी कम से कम मां की बात तो मानें
      - मोदी ने कहा, "कांग्रेस अध्यक्ष तो नामदार हैं, उनसे काम की अपेक्षा कर ही नहीं सकते हैं। अब हमारा सपना है कि हर घर में बिजली पहुंचे। जो लोग हमें गालियां देते हैं, उन्हें सोचना चाहिए कि क्या कारण है कि आजादी के बाद से उन घरों में बिजली नहीं पहुंची। हमने इसका बीड़ा उठाया है।"
      - "आज कल कांग्रेस में ऐसे लोग लीडरशिप कर रहे हैं, जिन्हें वंदेमातरम और देश के गौरव का पता नहीं है। कांग्रेस अध्यक्ष को देश का ज्ञान नहीं है। हमसे पहले सोनिया जी की सरकार थी और मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे। तब 2005 में पीएम ने कहा था कि यूपीए सरकार देश के हर गांव में बिजली पहुंचाएंगे। कांग्रेस अध्यक्ष तो भरी मीटिंग में मनमोहन जी के फैसले को फाड़ देते हैं। मनमोहन जी की बात नहीं मानते हो, कम से कम परमपूज्य माता जी की (सोनिया गांधी) बात तो मानो।"
      - "आपकी माता जी मैडम सोनिया जी ने कहा था कि 2009 तक हर घर में बिजली पहुंचाएंगे, लेकिन 2014 तक आप बैठे रहे। हमारे आने तक कोई काम नहीं किया। कांग्रेस जवाब दे कि 2014 के पहले 4 साल में कर्नाटक के केवल 2 गांवों में ही बिजली पहुंची थी और आप हमारा हिसाब मांग रहे हो।"

      राहुल बिना कागज लिए 15 मिनट बोलकर दिखाएं
      - मोदी ने कहा, "लोकतंत्र में हम नेता और नागरिकों की बातों को गंभीरता से लिया जाता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने हाल ही में मुझे एक चुनौती। उन्होंने कहा कि अगर मैं संसद में 15 मिनट भी बोलूंगा तो मोदी जी बैठ नहीं पाएंगे। वे 15 मिनट बोलेंगे, ये भी एक बड़ी बात है और मैं बैठ नहीं पाऊंगा। कांग्रेस अध्यक्ष जी आप नामदार हैं और हम कामदार हैं। हम तो अच्छे कपड़े भी नहीं पहन सकते हैं, आपके सामने कैसे बैठेंगे। हम लोगों ने नामदारों के जुल्म झेले हैं और आज इस ताकत को बढ़ाते चले जा रहे हैं।"
      - ''मोदी जी को छोड़ो। मैं आपसे कहता हूं कि आप कर्नाटक के चुनाव प्रचार में 15 मिनट बगैर कागज हाथ में लिए हिंदी, अंग्रेजी या अपनी मां की मातृभाषा में बोल के दिखा दीजिए। एक बात और इस 15 मिनट के भाषण में 5 बार श्रीमान विश्वेश्वरैया का नाम ले लाना। कर्नाटक की जनता तय कर लेगी, उन्हें क्या करना है।''

      सिद्धारमैया हार के डर से दो सीटों से चुनाव लड़ रहे
      - मोदी ने कहा, ''यहां के मुख्यमंत्री (सिद्धारमैया) पराजय के डर से इधर-उधर से सीट छोड़कर भाग रहे हैं। दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं। जहां पहले जनता ने आशीर्वाद दिया था, वहां से बेटे को बलि चढ़ा रहे हैं। इन तीनों में से एक भी सीट बच जाए तो परिवार की गाड़ी चलती रहेगी। परिवारवाद की परंपरा कांग्रेस कार्यकाताओं को परेशान करती होगी, लेकिन कांग्रेस के नामदार के आगे उनके कामगार कुछ बोल नहीं पाते हैं। परिवारवाद ने देश को बर्बाद किया है। कर्नाटक के चुनाव में ऐसी राजनीति नहीं चलेगी।''

      कांग्रेस राज में अपराध, भ्रष्टाचार का बोलबाला
      - प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ''कर्नाटक सरकार के मंत्री और उनके चेले-चपाटों के भ्रष्टाचार पिछले दिनों मीडिया में आए। यहां 10% कमीशन पर काम होते थे। अब 12 मई को जनता कर्नाटक का भविष्य तय करेगी। नोटबंदी के बाद कर्नाटक के नामदारों के घरों से कितने नोट बरामद हुए यह सबको पता है।''
      - कर्नाटक में लॉ एंड ऑर्डर फेल है। यहां न लॉ है न ऑर्डर है। यहां लोकायुक्त तक सलामत नहीं है। जहां-जहां कांग्रेस होती है। वहां अपराध, भ्रष्टाचार, परिवारवाद का बोलबाला होता है। चामराजनगर में किसानों को पानी नहीं मिल रहा है। इस इलाके को नजरअंदाज किया गया है।

      209 सीटों को कवर करेंगे मोदी
      - पहली सभा में मोदी चामराजनगर, मैसूर और मांड्या की 22 सीटों को कवर करेंगे।
      - मोदी, उडुपी और चिक्कोद में सभा को संबोधित करेंगे। कैंपेन के पहले चरण में वे 48 विधानसभा सीटों को कवर करेंगे। इसके बाद वे दिल्ली लौट जाएंगे। दूसरे में 47 और तीसरे चरण में 49 विधानसभा सीटों को कवर करेंगे
      - भाजपा के संभावित शेड्यूल के मुताबिक, मोदी 3 मई को फिर से कर्नाटक लौटेंगे और कलबुर्गी, बेल्लारी और बेंगलुरु में सभाएं करेंगे। यहां वे 47 सीटों को कवर करेंगे।
      - मोदी के चुनाव प्रचार का तीसरा चरण 5 मई को शुरू होगा। इसमें मोदी टुमकुर, शिवमोगा (शिमोगा) और गड़ाग में सभाएं करेंगे। यहां वे 49 सीटों को कवर करेंगे।
      - चुनाव प्रचार के अंतिम चरण में मोदी 7 मई को रायचूर, चित्रदुर्ग, कोलार और 8 मई को विजयवाड़ा, मैंगलुरु में सभाएं करेंगे। इन दो दिनों में वे 65 सीटों को कवर करेंगे।

    • राहुल गांधी की संसद में बोलने की चुनौती पर मोदी का जवाब, बिना कागज देखे 15 मिनट बोलकर दिखाएं, national news in hindi, national news
      +1और स्लाइड देखें
    Topics:
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From National

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×