देश

--Advertisement--

महाराष्ट्र में प्लास्टिक पर प्रतिबंध: तीसरी बार इस्तेमाल करते पकड़े गए तो 25 हजार जुर्माना, 3 महीने की जेल

मुंबई में प्लास्टिक के इस्तेमाल से गटर चोक हो जाते हैं। बारिश के दौरान इस कारण सड़कों पर पानी भर जाता है।

Danik Bhaskar

Jun 23, 2018, 03:16 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार से प्रदेश में प्लास्टिक के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। अब कोई प्लास्टिक का इस्तेमाल करता है तो उसे 5 से 25 हजार रुपए तक का जुर्माना भरना होगा। सबसे कड़ी सजा तीसरी बार इस्तेमाल करते पकड़े जाने पर है। इसमें 25 हजार जुर्माना और 3 महीने की जेल होगी। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, 'प्लास्टिक पर प्रतिबंध तभी कामयाब होगा, जब इस कदम को व्यापारियों का सहयोग मिलेगा। हम लोगों को प्लास्टिक के इस्तेमाल के प्रति जागरूक करना चाहते हैं। इसलिए हमने ऐसी प्लास्टिक के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाया है, जो रिसाइकिल (दोबारा उपयोग) नहीं की जा सकती है।"

सरकार ने 3 महीने पहले जारी की थी अधिसूचना

सरकार ने प्लास्टिक बंद करने के लिए 23 मार्च को अधिसूचना जारी की थी। इसमें प्लास्टिक के उत्पादन, इस्तेमाल, वितरण और भंडारण जैसे पॉलीबैग, प्लास्टिक के चम्मच, प्लास्टिक की बोतल, थर्माकोल पर प्रतिबंध लगाया गया था। मौजूदा स्टाक खत्म करने के लिए सरकार ने व्यापारियों को 3 महीने का समय दिया था। शनिवार को समय सीमा पूरी हो गई। अब अगर कोई प्लास्टिक इस्तेमाल करने का दोषी पाया जाता है तो पहले उस पर 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। दूसरी बार ऐसा करने जुर्माने की राशि 10 हजार होगी। अगर वह तीसरी बार दोषी पाया जाता है तो उस पर 25 हजार रुपए का जुर्माना और तीन महीने जेल की सजा सुनाई जा सकती है। राज्य सरकार में पर्यावरण मंत्री रामदास कदम ने बताया कि अगर दूसरे राज्य से कोई प्लास्टिक यहां लाते हुए पकड़ा जाता है तो उसे तीन महीने जेल की सजा हो सकती है।

प्लास्टिक के इन सामान पर राहत: टेलिविजन, फ्रिज, कम्प्यूटर की पैकेजिंग में लगने वाला थर्माकोल, रेनकोट, अनाज के भंडारण में इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक पर सरकार ने प्रतिबंध नहीं लगाया है।

Click to listen..