देश

--Advertisement--

कश्मीर में पत्थरबाजों ने स्कूल बस को भी नहीं बख्शा, पथराव में बच्चे के सिर में आई गंभीर चोट

बता दें कि एक महीने पहले पत्थरबाजों ने टूरिस्ट बस पर हमला किया था। इसमें 4 लोग जख्मी हुए थे।

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 03:51 PM IST
दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रेहान के सिर पर चोट आई है। दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रेहान के सिर पर चोट आई है।

  • पिछले एक महीने में बस पर पत्थरबाजी की तीसरी घटना
  • घायल बच्चे के पिता बोले- ये इंसानियत के खिलाफ

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के शोपियां में पत्थरबाजों ने बुधवार को एक स्कूल बस पर हमला कर दिया। इस घटना में एक दूसरी कक्षा का बच्चा घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां डॉक्टरों ने उसके सिर पर गंभीर चोट बताई है। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने घटना की निंदा की है। बता दें कि पिछले एक महीने में यह तीसरी घटना है। इससे पहले अप्रैल की शुरुआत में इंडोनेशिया के पर्यटकों की एक बस और एक अन्य पर हमला किया गया था।

रेनबो स्कूल की थी बस
- पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, पत्थरबाजों ने शोपियां के जवूरा में स्थित रेनबो हाईस्कूल की बस को सुबह 11 बजे निशाना बनाया।

पिता ने कहा- इंसानियत के खिलाफ है ये घटना
- लड़के के पिता का कहना है कि उनके बेटे के सिर पर चोट आई है। ये इंसानियत के खिलाफ है। ये किसी का भी बच्चा हो सकता था।
- वहीं, उमर अब्दुल्ला ने अपने ट्वीट में लिखा, “स्कूल बस और टूरिस्ट बस में हमला करने से पत्थरबाजों का एजेंडा कैसे आगे बढ़ सकता है? इस तरह के हमलों की हर किसी को एक आवाज में निंदा करनी चाहिए।”

पत्थरबाजों को बख्शा नहीं जाएगा: महबूबा
- जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घटना पर ट्वीट कर गुस्सा जताया। उन्होंने कहा, “शोपियां में स्कूल बस पर हमले की बात सुनकर गुस्सा आ रहा है। इस तरह की बेवकूफी और कायरता भरे काम करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।"

- वहीं, राज्य के डीजीपी एसपी वैद ने कहा, “कुछ शरारती तत्वों ने रेनबो स्कूल की स्कूल बस पर पत्थर बरसाए, जिससे दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रेहान नाम के लड़के के सिर पर चोट आई है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। स्कूली बच्चों को निशाना बनाना पूरी तरह पागलपन है। ऐसा करने वालों को कानून का सामना करना पड़ेगा।"

एक महीने में बस पर पत्थरबाजी की तीसरी घटना
- बता दें कि पिछले एक महीने में बस को निशान बनाकर पत्थरबाजी की ये तीसरी घटना है। अप्रैल की शुरूआत में पत्थरबाजों ने डल झील के पास इंडोनेशिया के टूरिस्ट्स की दो बसों पर पत्थर बरसा दिए थे। इस दौरान हाउसबोट मालिकों ने उन्हें बचाया था। इतना ही नहीं, एयरपोर्ट के करीब भी पत्थरबाज एक कैब पर हमला कर चुके हैं। इसमें अबुधाबी की दो महिलाओं के सिर पर चोट आई थी।
- कुछ हफ्तों पहले उपद्रवियों की भीड़ ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा स्थित अवंतीपोरा में एक टूरिस्ट बस को निशाना बनाया था। इसमें भी उत्तर प्रदेश की दो महिलाएं घायल हुई थीं।

बस रेनबो हाईस्कूल की थी। इसमें 50 बच्चे सवार होने की बात की जा रही है। बस रेनबो हाईस्कूल की थी। इसमें 50 बच्चे सवार होने की बात की जा रही है।
X
दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रेहान के सिर पर चोट आई है।दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रेहान के सिर पर चोट आई है।
बस रेनबो हाईस्कूल की थी। इसमें 50 बच्चे सवार होने की बात की जा रही है।बस रेनबो हाईस्कूल की थी। इसमें 50 बच्चे सवार होने की बात की जा रही है।
Click to listen..