Hindi News »National »Latest News »National» Trump Hails Kalpana Chawla As American Hero

ट्रम्प ने की भारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री की तारीफ, कहा- वो अमेरिकी हीरो थीं

ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका को कल्पना से देश प्रेम और काम के प्रति समर्पण के चलते सामाजिक बदलाव और नए विचार मिले।

DainikBhaskar.com | Last Modified - May 01, 2018, 05:19 PM IST

  • ट्रम्प ने की भारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री की तारीफ, कहा- वो अमेरिकी हीरो थीं, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि कल्पना चावला लाखों लड़कियों के लिए प्रेरणा हैं। -फाइल
    • कल्पना चावला का जन्म हरियाणा के करनाल में हुआ था। चार भाई-बहनों में वह सबसे छोटी थीं।
    • 1 फरवरी 2003 को कोलंबिया शटल हादसे मेंकल्पना समेत 7 अंतरिक्ष यात्रियों की मौत हुई थी।

    वॉशिंगटन.अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारतीय मूल की अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला की जमकर तारीफ की। नासा के स्पेस प्रोग्राम के लिए अपना जीवन समर्पित करने वाली कल्पना को ट्रम्प ने अमेरिकी हीरो बताया। उन्होंने कहा कि वह अंतरिक्ष में जाने वाली पहली भारतीय महिला थीं। उन्होंने लाखों लड़कियों को अंतरिक्ष यात्री बनने के लिए प्रेरित किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने मंगलवार को मई महीने को 'एशियाई अमेरिकी और प्रशांत द्वीपसमूह विरासत माह' घोषित करने का निर्देश जारी किया। इसी मौके पर उन्होंने कल्पना चावला के योगदान को याद किया।

    अमेरिका में अच्छा काम करने वालों की कद्र

    - राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा, ''अमेरिका ऐसा देश है जो मेहनती, ईमानदार और जीवन के आदर्शों के लिए प्रतिबद्ध लोगों की कद्र करता है। अमेरिका को कल्पना से देश प्रेम और काम के प्रति समर्पण के चलते सामाजिक बदलाव और नए विचार मिले। उनके साहस और जुनून ने लाखों लड़कियों को अंतरिक्ष यात्री बनने के लिए प्रेरित किया।''
    - ''इसी वजह से अमेरिका हिंद-प्रशांत क्षेत्र के संबंधों की सराहना करता है। एशियाई अमेरिकी और प्रशांत द्वीपसमूह विरासत के लिए अमेरिकी इन संबंधों को बढ़ावा देने के लिए मददगार रहे हैं। इससे इन्हें और ज्यादा मजबूती मिली है।''

    कल्पना को मरणोपरांत कई अवॉर्ड मिले

    - ट्रम्प ने कहा कि कल्पना चावला को उनकी उपलब्धियों के लिए अमेरिकी कांग्रेस ने मरणोपरांत कांग्रेशनल अंतरिक्ष पदक से सम्मानित किया था। नासा ने उन्हें स्पेस फ्लाइट पदक और नासा विशिष्ट सेवा पदक दिया।
    - भारतीय अमेरिकी कल्पना चावला अंतरिक्ष में जाने वाली भारतीय मूल की पहली महिला थीं। अंतरिक्ष शटल कार्यक्रम के प्रति अपने समर्पण के चलते वे अमेरिकी हीरो बन गईं।

    हरियाणा में हुआ था कल्पना का जन्म

    - बता दें कि कल्पना चावला का जन्म हरियाणा के करनाल में 7 मार्च 1962 को हुआ था। अपने चार भाई-बहनों में वह सबसे छोटी थीं।
    - कल्पना ने पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज से ऐरोनॉटिक्स की डिग्री ली। इसके बाद 1984 में आगे पढ़ाई के लिए अमेरिका चली गईं।
    - 1995 में कल्पना नासा में अंतरिक्ष यात्री के तौर पर शामिल हुईं और 1998 में उन्हें पहली उड़ान के लिए चुना गया। 2003 में नासा के कोलंबिया स्पेस शटल मिशन में शामिल हुईं। यह उनकी दूसरी उड़ान थी।
    - कोलंबिया शटल 1 फरवरी 2003 को हादसे का शिकार हो गया था। इसमें कल्पना समेत 7 अंतरिक्ष यात्रियों की मौत हुई थी।

  • ट्रम्प ने की भारतीय मूल की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री की तारीफ, कहा- वो अमेरिकी हीरो थीं, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    1998 में नासा ने कल्पना चावला को उनकी पहली उड़ान के लिए चुना था। -फाइल
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×