ITR 2018: मां-बाप के घर में रहते हैं तब भी आप ले सकते हैं एचआरए पर टैक्स छूट का लाभ

Dainikbhaskar.com | Jul 23,2018 18:11 PM IST

आप नौकरीपेशा हैं और शहर से बाहर रहते हैं या अपने ही शहर में मां-बाप के घर में रहते हैं तब भी आप एचआरए पर TAX छूट ले सकते हैं। अगर आपनी कंपनी को रेंट स्लिप या रेंट का प्रूफ नहीं दिया है तो कंपनी ने आपके एचआरए पर भी TDS काटा होगा।

इंजीनियरिंग, एमबीए नहीं अब इन 7 कोर्सों में मिल रहे जॉब के खूब मौके, एक्सपर्ट ने बताया क्यों इन कोर्सों में पढ़ाई करना आपके लिए फायदेमंद

dainikbhaskar.com | Jul 23,2018 13:14 PM IST

इंजीनियरिंग, एमबीए की पारंपरिक पढ़ाई करने के बजाए अब आप ऐसे कोर्स कर सकते हैं, जिनमें फ्यूचर में जॉब की कोई कमी नहीं होगी और पैसा भी खूब मिलेगा। श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्‍वविद्यालय के वाइस चांसलर उपेंद्र धर ने बताया कि जो स्टूडेंट्स इन कोर्सों में स्किल्स डेवलप कर लेते हैं, वे सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका, यूके में भी अच्छे पैकेज पर जॉब कर सकेंगे, क्योंकि 2022 तक पूरी दुनिया में सबसे बड़ा वर्किंग एज ग्रुप हमारे पास होगा। जानिए कौन से हैं, वे 7 कोर्स, जिनकी पढ़ाई करने पर आपका फ्यूचर सेफ हो सकता है।

सरकार पीपीएफ से भी ज्यादा ब्याज दे रही 'सुकन्या समृद्धि योजना' में, 10 साल तक की बेटी के नाम खुलवा सकते हैं अकाउंट, बेटी की शादी के टाइम एकमुश्त मिल जाएगी बड़ी रकम

dainikbhaskar.com | Jul 23,2018 12:42 PM IST

मोदी सरकार ने हाल ही में 'सुकन्या समृद्धि योजना' के नियमों में बदलाव कर दिया है। अब 250 रुपए जमा करके भी बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने वाला यह अकाउंट खुलवाया जा सकता है। बता दें कि सरकार इसमें पीपीएफ से भी ज्यादा इंटरेस्ट दे रही है। इस योजना को सरकार ने 2015 में लॉन्च किया था। हर तिमाही में इस पर मिलने वाले इंटरेस्ट रेट को रिवाइज्ड किया जाता है। जुलाई-सितंबर क्वार्टर के लिए इसका इंटरेस्ट रेट 8.1 % तय किया गया है। हम बता रहे हैं इस स्कीम में अकाउंट खुलवाने की पूरी प्रॉसेस और इसके नियम।

सरकार ने संसद में बताया : देश के 74 फीसदी ATM हो चुके हैं आउटडेटेड, इनके हैक होने का खतरा भी बढ़ गया, आपके ATM कार्ड से कोई और न निकाल सके पैसे, इसलिए 4 बातें जरूर करें फॉलो

dainikbhaskar.com | Jul 22,2018 19:07 PM IST

देश के 25 फीसदी सरकारी बैंकों के करीब 74 प्रतिशत ATM आउटडेटेड हो चुके हैं। इससे इनके हैक होने की रिस्क बढ़ गई है। यह जानकारी खुद सरकार ने संसद में दी है। सरकार ने बताया कि अधिकतर एटीएम अनसपोर्टेड सॉफ्टवेयर पर चल रही हैं।