ब्रिटेन / ब्रिटिश कलाकार की 70 साल पुरानी हैप्पी पेंटिंग 24 करोड़ रुपए में बिकी, छुट्‌टी का प्रतीक बनी

ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी ने इस पेंटिंग को 1943 में बनाया था। ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी ने इस पेंटिंग को 1943 में बनाया था।
X
ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी ने इस पेंटिंग को 1943 में बनाया था।ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी ने इस पेंटिंग को 1943 में बनाया था।

  • लंदन में इस पेंटिंग की नीलामी क्रिस्टी ऑक्शन हाउस ने की, इसे ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी ने बनाया था 
  • इसका शीर्षक द मिल है, लॉरी ने इस पेंटिंग में जीवन की व्यस्तताओं के बारे में बताया है

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2020, 09:30 AM IST

लंदन. ब्रिटिश कलाकार एलएस लॉरी द्वारा 1943 में बनाई गई हैप्पी पेंटिंग 24 करोड़ रुपए (2.6 मिलियन पाउंड) में नीलाम हुई। लंदन के क्रिस्टी ऑक्शन हाउस में मंगलवार शाम को बिकी इस पेंटिंग को निजी कलेक्टर ने खरीदा है। पेंटिंग का टाइल है- द मिल। लॉरी ने इस पेंटिंग में इंग्लैंड के एक औद्योगिक क्षेत्र को दर्शाया है। इसमें जीवन की व्यस्तताओं को प्रदर्शित किया है। हालांकि देखने से लगता है कि पेंटिंग शनिवार-रविवार की दिनचर्या को दिखाती है। क्योंकि, लोग ऑफिस और बच्चे स्कूल जाते हुए नहीं दिख रहे हैं। पहले यह कहा जा रहा था कि पेंटिंग खो गई थी, जिसे एक शोधकर्त्ता ने खोज निकाला था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, द मिल, पेंडलेबरी पेंटिंग डीएनए रिसर्च के अग्रणी रहे डॉ. लियोनार्ड डी हैमिल्टन के पास थी। उन्होंने इसे तब खरीदा था, जब लॉरी ने पेंटिंग कॅरियर शुरू ही किया था। यह उनके कमरे की दीवार पर लगी थी। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से मेडिकल की पढ़ाई के दौरान उन्होंने इसे अपने पास रखा था। मैनचेस्टर में जन्मे वैज्ञानिक 1949 में यहां से अमेरिका चले गए थे। तब वे अपने साथ पेंटिंग को भी ले गए थे। इस कारण कला जगत के लोग इस पेंटिंग के मौजूद होने की जानकारी से अनभिज्ञ थे। पिछले साल अगस्त में डॉ हैमिल्टन की मौत के बाद यह पेंटिंग फिर से चर्चा में आई। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना