आंध्र प्रदेश / भिखारी ने 7 साल में मंदिर को 8 लाख रुपए दान दिए, कहा- इससे इनकम बढ़ी

यादी रेड्डी पहले रिक्शा चलाते थे। घुटनों में तकलीफ की वजह से इसे छोड़ना पड़ा। यादी रेड्डी पहले रिक्शा चलाते थे। घुटनों में तकलीफ की वजह से इसे छोड़ना पड़ा।
X
यादी रेड्डी पहले रिक्शा चलाते थे। घुटनों में तकलीफ की वजह से इसे छोड़ना पड़ा।यादी रेड्डी पहले रिक्शा चलाते थे। घुटनों में तकलीफ की वजह से इसे छोड़ना पड़ा।

  • भिखारी यादी रेड्डी विजयवाड़ा के साईंबाबा मंदिर के सामने ही भीख मांगते हैं 
  • उन्होंने बताया कि पहली बार मंदिर को एक लाख रुपए दान दिए थे, आगे भी सारी कमाई दे देंगे 

दैनिक भास्कर

Feb 14, 2020, 04:19 PM IST

विजयवाड़ा. आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा के साईंबाबा मंदिर को 73 साल के एक भिखारी ने सात साल के दौरान तकरीबन 8 लाख रुपए दान में दिए। भिखारी यादी रेड्डी ने बताया कि ऐसा करने से उन्हें ज्यादा भीख मिली। यादी मंदिर के बाहर ही भीख मांगते हैं। मंदिर प्रशासन ने यादी की सराहना की। 

यादी रेड्डी इससे पहले चार दशक तक रिक्शा चलाकर अपनी अजीविका चलाते थे। वे बताते हैं कि घुटनों में तकलीफ की वजह से उन्हें रोजगार छोड़ना पड़ा था। मैंने 40 साल रिक्शा चलाया है। सबसे पहले मैंने एक लाख मंदिर को दान किए। जब मेरी तबीयत बिगड़ने लगी, तब मुझे पैसों की बहुत ज्यादा जरूरत महसूस नहीं होती थी। ऐसे में मैंने मंदिर को ज्यादा पैसे दान में देने का फैसला किया।

रेड्डी ने बताया- सारी कमाई दान में देंगे 
यादी रेड्डी का कहना है कि मंदिर में दान देने से उसकी आय में काफी इजाफा हुआ है। मंदिर में दान करने की वजह से आज लोग मुझे पहचानते हैं। मैंने अभी तक मंदिर को 8 लाख रुपए दान में दिए हैं। आगे भी अपनी सारी कमाई मंदिर को दे देंगे। मंदिर प्रशासन ने बताया कि वे उनकी मदद से एक गोशाला का भी निर्माण करने वाले हैं। उनके पैसे मंदिर के विस्तार से जुड़े कई काम हुए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना