द. अफ्रीका / 20 स्टूडेंट्स ने बनाया विमान, 12000 किमी का सफर तय कर केपटाउन से काहिरा जाएंगे



विमान में पायलट सीट पर बैठी मेघन।। विमान में पायलट सीट पर बैठी मेघन।।
X
विमान में पायलट सीट पर बैठी मेघन।।विमान में पायलट सीट पर बैठी मेघन।।

  • इस प्रोजेक्ट को शुरू करने का श्रेय 17 साल की मेघन को जाता है, उसने इस काम के लिए 1000 लोगों में से 20 को चुना
  • विमान फैक्टरी में बनी किट से बनाने में तीन हफ्तों का वक्त लगा

Dainik Bhaskar

Jun 18, 2019, 11:56 AM IST

केपटाउन. दक्षिण अफ्रीका के स्कूली बच्चों ने एक किट की मदद से चार सीटों वाले विमान को तैयार किया है। अब वे इससे केपटाउन से काहिरा तक 12000 किलोमीटर का सफर तय करेंगे। इसमें उन्हें छह हफ्ते का समय लगेगा। पहले चरण में विमान नामीबिया पहुंच गया है।

 

चार सीट के इस स्लिंग-4 विमान को 20 स्टूडेंट्स के ग्रुप ने तैयार किया है। उन्हें दक्षिण अफ्रीका की विमान फैक्टरी में बनी किट से इसे तैयार करने में तीन हफ्तों का समय लगा। इस किट में हजारों छोटे-छोटे हिस्से होते हैं और उन्हें जोड़कर विमान तैयार होता है।

 

यह बहुत आराम से उड़ता है
गुटेंग प्रांत के मुंसीविले की रहने वाली 15 साल की एग्निस इसे देखकर खुश होते हुए कहती हैं कि उन्हें यह अपने बच्चे जैसा लगता है। जोहांनिसबर्ग से केपटाउन की इसकी पहली उड़ान के बारे में वह कहती हैं कि यह बहुत ही आराम से उड़ता है और इससे दिखने वाला दृश्य बहुत ही सुंदर है। 

 

प्रोजेक्ट के लिए एक हजार में 20 को चुना था
इस प्रोजेक्ट को शुरू करने का श्रेय 17 साल की मेघन को जाता है। उसने इस काम के लिए 1000 लोगों में से 20 लोगों को चुना था। वह इस ग्रुप के उन छह सदस्यों में शामिल है, जिनके पास पायलट का लाइसेंस है। ये छह लोग ही बारी-बारी से इस विमान को उड़ाएंगे। 

 

परफेक्ट टाइम में विमान तैयार हुआ 
मेघन कहती है कि पायलट का लाइसेंस लेना किसी डिग्री लेने जैसा है, लेकिन उसे अब अक्टूबर के एग्जाम की चिंता है। मेघन के पिता डेस वार्नर भी कमर्शियल पायलट हैं। वे बताते हैं कि स्लिंग-4 विमान को तैयार करने में 3000 घंटे लगते हैं। इन बच्चों ने भी लगभग इतने ही समय में इसे तैयार किया है। इस विमान में सिर्फ इंजन को ही एक्सपर्ट ने फिट किया है।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना