साइबेरिया / आइस एज के पक्षी का अवशेष मिला, विशेषज्ञों ने कहा- 46 हजार साल बाद भी अच्छी स्थिति में है

इस खोज से जुड़ा रिसर्च जनरल कम्युनिकेशन बायोलॉजी में शुक्रवार को प्रकाशित किया गया। इस खोज से जुड़ा रिसर्च जनरल कम्युनिकेशन बायोलॉजी में शुक्रवार को प्रकाशित किया गया।
X
इस खोज से जुड़ा रिसर्च जनरल कम्युनिकेशन बायोलॉजी में शुक्रवार को प्रकाशित किया गया।इस खोज से जुड़ा रिसर्च जनरल कम्युनिकेशन बायोलॉजी में शुक्रवार को प्रकाशित किया गया।

  • हॉर्न्ड लार्क पक्षी साइबेरिया के शिकारियों ने खोजा, फिर इन्होंने एक्सपर्ट की टीम को सौंप दिया
  • इसे रूस और मंगोलिया में पाए जाने वाले पक्षी हॉर्न्ड लार्क का पूर्वज बताया जा रहा है

दैनिक भास्कर

Feb 22, 2020, 12:31 PM IST

साइबेरिया. स्वीडिश म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री के विशेषज्ञों को साइबेरिया में 46 हजार साल पुराने पक्षी का अवशेष मिला है। विशेषज्ञों का कहना है कि इसे बेहद अच्छे ढंग से संरक्षित किया गया था। यह पक्षी हॉर्न्ड लार्क है, जो पूर्वी रूस और मंगोलिया में अभी भी पाया जाता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसे साइबेरिया के बेलाया गोरा गांव में स्थानीय शिकारियों ने खोजा था। रेडियोकार्बन तकनीक से खुलासा हुआ कि यह 46 हजार साल पहले का है। हैरानी बात है कि इतने सालों के बाद भी यह पूरी तरह खराब नहीं हुआ था। इसके बारे में जानने के लिए इसे एक्सपर्ट निकालाज डुसेक्स और लव डेलेन को सौंप दिया था। इस खोज से जुड़ा रिसर्च जनरल कम्युनिकेशन बायोलॉजी में शुक्रवार को प्रकाशित किया गया है। जानकारों का कहना है कि साइबेरिया बेहद ठंडा इलाका है। यहां साल के अधिकतम दिन तापमान माइनस में रहता है। यही वजह रही कि इतने साल बाद भी इसके शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचा।

इस पक्षी के जीनोम एनालिसिस से जानकारी मिल सकेगी  

एक्सपर्ट डेलेन ने मीडिया को बताया कि यह पक्षी वर्तमान में पाए जाने वाले लार्क पक्षियों का पूर्वज है। इसकी एक प्रजाति उत्तरी रूस और दूसरी मंगोलिया में पाई जाती है। इस खोज का निष्कर्ष यह निकला कि हिमयुग के आखिर में होने वाले जलवायु परिवर्तन के कारण पक्षियों की नई उप-प्रजातियां बन गईं। शोध के अगले चरण में पक्षी के पूरे जीनोम को शामिल किया गया है। इससे आज के लार्क पक्षियों के बारे में नई जानकारी मिल सकती है। वैज्ञानिक अभी दूसरे जानवरों के शरीर के आंतरिक और बाह्य अंगों पर काम कर रहे हैं। इनमें भेड़िया और हिरण जैसे जानवर शामिल हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना