• Hindi News
  • Interesting
  • To make Indore disposal free, Indore Municipal Corporation sets up free utensil bank, booking via toll free number

इंदौर / शहर को डिस्पोजल फ्री करने के लिए नगर निगम ने बनाया निशुल्क बर्तन बैंक, टोल फ्री नंबर से होगी बुकिंग



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • नगर निगम की ओर से आईएमसी बर्तन बैंक नाम की यह देश में पहली व्यवस्था 
  • नियम के मुताबिक- कार्यक्रम में लिए गए बर्तनों को अगले दिन साफ कर लौटाना होगा

Dainik Bhaskar

Jul 19, 2019, 01:42 PM IST

इंदौर. देश के सबसे साफ शहर इंदौर को अब डिस्पोजल फ्री बनाने की पहल की जा रही है। अगर आपके घर में कोई कार्यक्रम है तो मेहमानों को खाना खिलाने के लिए आपको डिस्पोजल प्लेट, दोने खरीदने की जरूरत नहीं। इसके लिए आप निगम के टोल फ्री नंबर पर कॉल कर बुकिंग करवा लें। आपको निशुल्क बर्तन मिल जाएंगे। 

 

शर्त यह रहेगी कि आप आयोजन में किसी भी तरह के डिस्पोजल सामान का इस्तेमाल नहीं करेंगे। जल्द ही शुरू होने जा रही इस सुविधा का नाम आईएमसी बर्तन बैंक रखा गया है। यह व्यवस्था देश में पहली होगी, जहां नगर निगम लोगों को टेंट हाउस की तर्ज पर बर्तन उपलब्ध करवाएगा। 

 

500 लोगों के कार्यक्रम के बर्तन तैयार
प्रारंभिक चरण में निगम ने करीब 500 लोगों के कार्यक्रम के हिसाब से बर्तन की व्यवस्था कर ली है। टोल-फ्री नंबर (0731-4987161) के साथ इसका ऑफिस बंगाली चौराहे पर रहेगा। लोगों को अपने आयोजन की बुकिंग एडवांस में करवानी होगी। उन्हें खुद निगम के ऑफिस से बर्तन ले जाने की व्यवस्था करना होगी। प्रोग्राम के अगले दिन उन्हें धुलवाकर लौटाना भी होगा।

 

फीडबैक का होगा विश्लेषण
निगम द्वारा दिए जाने वाले बर्तनों में खंड वाली थालियां, गिलास और प्लेन प्लेट रहेंगी। बर्तनों का इस्तेमाल करने वालों को दूसरों को भी इस व्यवस्था के लिए प्रेरित करना होगा। हर आयोजक की रजिस्टर में एंट्री होगी और उनका फीडबैक भी नोट किया जाएगा। हर महीने इस फीडबैक रजिस्टर से पूरी व्यवस्था का एनालिसिस होगा।
 
‘प्लास्टिक-डिस्पोजल से सिर्फ नुकसान’
इंदौर की मेयर मालिनी गौड़ ने बताया, ‘‘यह प्रोजेक्ट हमने पूरे शहर को डिस्पोजल मुक्त बनाने के लिए शुरू किया है। डिस्पोजल और प्लास्टिक के सिर्फ नुकसान हैं। इससे चेंबर भी चोक होते हैं और नालियां भी खराब होती हैं। शुरुआती दौर में हमने 500 बर्तनों की व्यवस्था की है। जनसहयोग मिलने के बाद हम बर्तनों की संख्या बढ़ा देंगे, ताकि बड़े कार्यक्रमों को भी इस सुविधा का लाभ मिल जा सके।’’ 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना