चीन / एशिया के बरमूडा ट्रायंगल में 11 दिन फंसा रहा 52 साल का मछुआरा, पेशाब पीकर जिंदा रहा

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2019, 10:27 AM IST



बोट में नियान सिंघुआ। बोट में नियान सिंघुआ।
11 दिन समुद्र में फंसे रहने के बाद कार्गाे शिप के डेक पर चढ़ते हुए। 11 दिन समुद्र में फंसे रहने के बाद कार्गाे शिप के डेक पर चढ़ते हुए।
सुरक्षित घर लौटने पर बहन से गले मिलते नियान, पीछे खड़ी पत्नी है। सुरक्षित घर लौटने पर बहन से गले मिलते नियान, पीछे खड़ी पत्नी है।
एशिया का बरमूडा ट्रैंगल। एशिया का बरमूडा ट्रैंगल।
X
बोट में नियान सिंघुआ।बोट में नियान सिंघुआ।
11 दिन समुद्र में फंसे रहने के बाद कार्गाे शिप के डेक पर चढ़ते हुए।11 दिन समुद्र में फंसे रहने के बाद कार्गाे शिप के डेक पर चढ़ते हुए।
सुरक्षित घर लौटने पर बहन से गले मिलते नियान, पीछे खड़ी पत्नी है।सुरक्षित घर लौटने पर बहन से गले मिलते नियान, पीछे खड़ी पत्नी है।
एशिया का बरमूडा ट्रैंगल।एशिया का बरमूडा ट्रैंगल।

  • नियान सिंघुआ समुद्र में 10 मई से फंसे हुए थे, उन्हें कार्गो शिप की मदद से रेक्स्यू किया गया
  • दक्षिण चीन सागर के पिंगटन क्षेत्र में पेट्रोल खत्म होने पर उनकी बोट बह गई थी

बीजिंग. चीनी मछुआरा नियान सिंघुआ 11 दिनों तक समुद्र में फंसे रहने के बाद सकुशल घर पहुंच गए। चीनी मीडिया के अनुसार, नियान चीन के दक्षिण-पूर्वी तटीय से 63 किलोमीटर पिंगटन में करीब 10 मई से फंसे हुए थे। उन्होंने बीच समुद्र में जिंदा रहने के लिए अपनी पेशाब को पिया और मछलियों के लिए लाया गया चारा खाया। नियान को 21 मई को एक कार्गो शिप की मदद से रेस्क्यू किया गया। 

 

नियान 10 मई को मछली पकड़ते हुए समुद्र में भटक गया था। तेज हवा, समुद्री करंट और कोहरे के कारण उसकी पेट्रोल बोट एशिया के बरमूडा ट्रायंगल में फंस गई थी। 36 साल से फिशिंग का काम करने वाले नियान ने अपनी यात्रा की शुरुआत उत्तर पूर्वी किंग्दाओ पोर्ट से की थी। नियान की पत्नी ने मीडिया को बताया, हम सबने उसके जिंदा रहने की उम्मीद छोड़ दी थी। बार-बार उनके इस दुनिया से जाने का ख्याल आता था। नियान का लौटना किसी चमत्कार से कम नहीं है।

 

एशिया के बरमूडा ट्रायंगल में कई जहाज गायब हुए

एशिया के बरमूडा ट्रायंगल में  2016 में 85 जहाज लापता हो गए थे। इसके बाद दक्षिण चीन सागर के समुद्री भाग को जापान, फिलीपीन्स और इंडोनेशिया ने एशिया का बरमूडा ट्रायंगल घोषित कर दिया था। वास्तविक बरमूडा ट्रायंगल उत्तर अटलांटिक महासागर का हिस्सा है। इसे 'डेविल्स ट्रायंगल' भी कहा जाता था।

COMMENT