• Hindi News
  • Interesting
  • German tourist coming to Kerala for 25 years started the campaign of beach cleaning, exhibition of finished goods from garbage

केरल / 25 साल से केरल आ रही जर्मन पर्यटक ने बीच की सफाई का अभियान शुरू किया, कचरे से तैयार सामान की प्रदर्शनी लगाई

गेब्रियल ओलेस्लेगर का बर्लिन में एक आर्ट स्टूडियो है। गेब्रियल ओलेस्लेगर का बर्लिन में एक आर्ट स्टूडियो है।
X
गेब्रियल ओलेस्लेगर का बर्लिन में एक आर्ट स्टूडियो है।गेब्रियल ओलेस्लेगर का बर्लिन में एक आर्ट स्टूडियो है।

  • गेब्रियल ओलेस्लेगर ने केरल के कोवलम के तटीय इलाके स्थित हवा बीच से कचरा उठाया
  • अब वह तटीय इलाके में कचरे की समस्या से निपटने के लिए इनसिनेरेटर लगाने के लिए निवेशक जुटा रही हैं
  • इनसिरेटर एक जर्मन कोरियन टेक्नोलॉजी बेस भट्‌टी है, जिससे इको फ्रेंडली तरीके से कचरा समाप्त होता है 

दैनिक भास्कर

Feb 29, 2020, 09:41 AM IST

कोवलम. 25 साल से लगातार केरल घूमने आने वाली जर्मन पर्यटक गेब्रियल ओलेस्लेगर ने हवा बीच को साफ करने का रास्ता निकाला है। गेब्रियल ने बताया, मैं कोवलम पिछले 25 सालों से लगातार आ रही हूं। इसीलिए यहां के स्थानीय लोगों के लिए जाना-पहचाना चेहरा हूं। इन सालों में मैंने तेजी से यहां होते बदलावों को देखा है। यहां बढ़ते कचरे की समस्या को खत्म करने का अभियान शुरू किया है। इसमें स्थानीय लोगों से भी सहयोग मिल रहा है।

गेब्रियल ओलेस्लेगर का बर्लिन में एक आर्ट स्टूडियो है। उन्होंने बीच पर मिले कचरे से तैयार आइटम की प्रदर्शनी लगाई है। इसमें फिशिंग बोट के टुकड़े, प्लास्टिक बोतल और कंटेनर जैसी चीजें शामिल हैं। 

गेब्रियल ओलेस्लेगर ने बताया, स्थानीय लोगों ने मुझसे कचरे के निदान के लिए मदद मांगी तो मैं तैयार गई। उन्हें एक छात्र ने कचरे को रिसाइकिल करने वाले इनसिनेरेटर के बारे में बताया था। उन्हें लगा कोवलम के लिए इनसिनेरेटर लगाना ठीक ही होगा। यह एक कचरा जलाने वाली भट्‌टी है। कोरियन-जर्मन टेक्नोलॉजी बेस इस भट्‌टी में कचरा जलाने पर प्रदूषण नहीं होगा। इसके बाद मैं वापस जर्मनी गई और कोवलम में इनसिनेरेटर लगाने की योजना बनाई।

एक्सपर्ट बुलाया है, अब निवेशक तलाशने हैं
गेब्रियल को लगता है, इस प्रयास से कोवलम पूरे देश में एक मॉडल बीच बनेगा। उन्होंने बताया, मैं टेक्निकल एक्सपर्ट नहीं हूं, इसलिए पहले प्रेजेंटेशन के लिए एक्सपर्ट बुलाया है। अब हमें निवेशक तलाशने हैं। एक बार मैं जर्मनी पहुंच जाऊं तब मैं इस पर भी काम करूंगी। कोवलम में रेस्त्रां चलाने वाले यूसुफ ने बताया, यह सही दिशा में उठाया गया कदम है। इससे पर्यटकों को बढ़ावा मिलेगा।   

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना