भारत के अनसंग हीरोज को पहचान दिलाता ग्रांट थॉर्नटन SABERA

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

4 दिसंबर को ग्रांट थॉर्नटन सबेरा समिट एंड अवार्ड्स (# SABERA19, नेहरू मेमोरियल म्यूजियम लाइब्रेरी में आयोजन किया गया। इस बार के सबेरा इवेन्ट की थीम ‘डेवलपमेंट पॉजिटिव’ थी जिसके पीछे का मकसद सिंपली सुपर्णा मीडिया नेटवर्क के जरिए गुड को पहचाना था।सम्मान के अतिथि डॉ। बिबेक देबरॉय, अध्यक्ष पीएम सलाहकार परिषद थे। इस कार्यक्रम की शुरुआत 2 युवा लड़कियों 21 वर्षीय चंदिनी और 19 वर्षीय जयश्री ने की थी, जो खुद में एक प्रेरणा हैं। चंदिनी कूड़ा बीनने वाली लड़की थी, जिसने सड़कों पर फूल भी बेचे थे, लेकिन अब अन्य बच्चों को अपनी परिस्थितियों से ऊपर उठने के लिए शिक्षित कर रही है और उसने 10000 से अधिक बच्चों के जीवन को छुआ है। जयश्री एनजीओ क्रांति की एक लाभार्थी है, जो मुंबई के कुख्यात रेड-लाइट क्षेत्र कामठीपुरा से यौनकर्मियों की बेटियों के पुनर्वास के लिए काम करती है। अपना स्कूल पूरा करने के बाद अब वह स्वयं एक एनजीओ में स्वयंसेवक हैं। SABERA पर बात करते हुए, ग्रांट थॉर्नटन इंडिया एलएलपी के सीईओ, विशेश सी चंडीओक ने कहा, “भारत जल्द ही $ 5ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बन जाएगा, चाहे वह 2025 में हो या बाद में। लेकिन हमें विविधता, प्रदूषण, न्याय और नवाचार पर भी सुधार करना होगा ताकि यह एक ऐसा भारत हो जिस पर हमें और भी अधिक गर्व हो। अधिक #VibrantBharat को आकार देना जीटी पर हमारा उद्देश्य है और SABERA हमें इस प्रश्न को रखने के लिए एक मंच प्रदान करता है। ” इस कार्यक्रम के पार्टनर Dainikbhaskar.com, ON PURPOSE, JOSHTALKS, Navya- Everything beautiful and NDTV थे। डॉ। राजेन्द्र सिंह, जिन्हें भारत के वाटरमैन के नाम से जाना जाता है, ने नदी के प्रदूषण, जल संचयन और फलने-फूलने वाले जल निकायों को पुनर्जीवित करने के लिए उल्लेखनीय मामलों के साथ अपने अंतर्दृष्टि और अनुभवों को साझा किया। उद्योग पैनल में 'सीएसआर से परे व्यापार की जिम्मेदारी' पर चर्चा की गयी । इसका संचालन सिद्धार्थ निगम मैनेजिंग पार्टनर, ग्रांट थॉर्नटन एडवाइजरी प्राइवेट लिनिटेड द्वारा की गयी। इस चर्चा में कमल सिंह, एग्ज़ीक्यूटिव डायरेक्टर UNGCI, सिराज चौधरी, सीईओ और एमडी एनसीएमएल, राजगोपाल बालासुब्रमण्यम, अध्यक्ष, डीएसएम और गीता गोयल, कंट्री डायरेक्टर Michael & Susan Dell Foundation शामिल थे। इस चर्चा में सीएसआर के साथ मुख्य रणनीतिक सोच का हिस्सा बनने के साथ बड़े पैमाने पर व्यवसाय और समाज के लिए मूल्यवान विचार- विमर्श किया गया। विनीता बाली, ग्लोबल बिज़नेस लीडर, पूर्व एमडी ब्रिटानिया, ने काम की उच्च गुणवत्ता की बात की। अपने जूरी चेयर संबोधन में, उन्होंने कहा, "मैं सबेरा को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने हमें एंट्री दिलाने के लिए जमीन पर जो काम किया, वह इतना अच्छा था कि इसे चुनना मुश्किल था। हमने सर्वश्रेष्ठ से सर्वश्रेष्ठ का चयन किया है। हमें उम्मीद है कि यह मान्यता दूसरों को आगे आने और अपनी कहानियों को साझा करने के लिए प्रेरित करेगी। ” जूरी बोर्ड में कॉरपोरेट, विकास और सीएसआर दुनिया के सभी नामी-गिरामी हस्तियां शामिल थीं, जो सभी गुड-डूअर हैं। पुरस्कार सामाजिक विकास लक्ष्यों (एसडीजी) पर आधारित हैं। बहुत सारे पुरस्कार विजेताओं को जीवन की अनिश्चितताओं से पीड़ित होने की वजह से अपने काम को बनाए रखने का जुनून था, और इसी तरह की चुनौतियों का सामना करने वाले अन्य लोगों के लिए दुनिया को बेहतर बनाने के लिए अपना जीवन समर्पित किया। INDIVIDUAL ’श्रेणी के अंतर्गत Lifetime Achievement का अवार्ड जीके स्वामी पुरकल, युवा विकास सोसाइटी को उनके ग्रामीण युवाओं और गरीब बच्चों को विश्व स्तर की शिक्षा प्रदान करवाने के लिए दिया गया। इसके साथ ही ये अवार्ड लेट जावेद आबिदी जो NCPEDP, के अध्यक्ष थे , उन्हें ये अवार्ड विकलांगता अधिकार समूह के पीछे प्रेरणा देने के लिए दिया गया। ORGANIZATION/ENTITY OF THE YEAR’ श्रेणी के अंदर भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड को रिस्पोंसिबल बिजनेस के लिए सम्मानित किया गया। ये अवार्ड उनको अनेक CSR काम के साथ-साथ नैतिक सुशासन और नैतिक हितधारक संलग्नताओं के लिए दिया गया। वहीं Stonesoup.in को Social Enterprise award उनके वेस्ट सेग्रिगेशन और और स्थायी मासिक धर्म समाधान के लिए दिया गया । और अंत में Not for Profit का खिताब MOHAN फाउंडेशन को जिसने अंग दान, का प्रचार किया और सैकड़ों लोगों को जीवन दान दिया साथ ही केशव सीता मेमोरियल फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा प्लास्टिक के कचरे की रिसाइकलिंग को बढ़ावा देने,के लिए भी दिया गया। इस कार्यक्रम में सम्मानित होने वाले अन्य लोगों के बारे में जानने के लिए क्लिक करें -  .    

खबरें और भी हैं...