• Hindi News
  • Interesting
  • Have been making Christmas gifts for children for 50 years, says the happiness of faces is the real earning

रियल लाइफ सांता / 50 साल से बच्चों के लिए क्रिसमस गिफ्ट बना रहे हैं, कहते हैं- चेहरों की खुशी ही असली कमाई

नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी में जिम के गिफ्ट सेलवेशन आर्मी के सदस्यों द्वारा बांटे जाते हैं। नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी में जिम के गिफ्ट सेलवेशन आर्मी के सदस्यों द्वारा बांटे जाते हैं।
X
नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी में जिम के गिफ्ट सेलवेशन आर्मी के सदस्यों द्वारा बांटे जाते हैं।नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी में जिम के गिफ्ट सेलवेशन आर्मी के सदस्यों द्वारा बांटे जाते हैं।

  • नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी के 80 साल के जिम एनिस बच्चों को तोहफे भेंट कर रहे हैं 
  • हर साल करीब 300 खिलौने बनाते हैं, इन पर 1000 डॉलर का खर्च आता है, जिसे जिम उठाते हैं

Dainik Bhaskar

Dec 16, 2019, 07:52 AM IST

न्यूयॉर्क. क्रिसमस पर अधिकांश बच्चे गिफ्ट्स मिलने की उम्मीद करते हैं। ऐसे बच्चों की उम्मीदों को नॉर्थ कैरोलिना के ली काउंटी के रहने वाले 80 साल के जिम एनिस पूरा करते हैं। वे 50 साल से बच्चों के लिए क्रिस्मस गिफ्ट बना रहे हैं। वे रियल लाइफ सांता हैं। पूर्व आर्मी ऑफिसर जिम बच्चों के लिए लकड़ी के खिलौने बनाते हैं। क्रिसमस पर जब सेलवेशन आर्मी के सदस्य नॉर्थ कैरोलिना की ली काउंटी में खाना और कपड़े बांटते हैं, तब जिम अपने बनाए खिलौने उन्हें दे देते हैं, ताकि किसी भी बच्चे के दिल में यह बात न आए कि सांता क्लॉज ने शायद उससे नाराज होकर उसे गिफ्ट नहीं भेजा।

जिम हर साल करीब 300 खिलौने तैयार करके सेलवेशन आर्मी के मेंबर्स को देते हैं। वह बताते हैं, खिलौने बनाने के लिए मुझे लकड़ी मेरे पड़ोसियों से ही मिल जाती है और बाकी का खर्च मैं खुद करता हूं। हर साल खिलौने पर करीब एक हजार डॉलर खर्च आता है। मेरे लिए ये पैसे खास अहमियत नहीं रखते। मैं जानता हूं कि क्रिसमस पर तोहफा न मिल पाने का गम क्या होता है। 

नहीं चाहता, किसी बच्चे का क्रिसमस बिना गिफ्ट के बीते
मेरे बचपन में ऐसे कई क्रिसमस रहे, जब मुझे और मेरे भाई-बहनों को बिना गिफ्ट लिए यह त्योहार मनाना पड़ा। मेरे पापा बहुत मेहनत करते थे, लेकिन ज्यादा पैसे नहीं कमा पाए और बिना पैसों के पांच बच्चों को पालना और हर क्रिसमस उनके लिए महंगा तोहफा खरीदना आसान नहीं था। इसलिए मैं नहीं चाहता कि जो चीजें बचपन में मैंने महसूस कीं, वह बाकी बच्चे भी महसूस करें।

उम्मीद है, मेरे बाद भी यह सिलसिला चले
मैं उनके लिए कार, ट्रैक्टर, पिगी बैंक्स और डॉल्स तैयार करता हूं। जब लोग मुझसे पूछते हैं कि इन खिलौनों से मैं कितना कमा पाता हूं तो मैं कहता हूं कि मेरी कमाई ये गिफ्ट्स लेने के बाद बच्चों के चेहरों की खुशी है। मैं उम्मीद करता हूं कि तोहफे बनाकर बांटने का यह सिलसिला मेरे बाद भी चलता रहेगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना