• Hindi News
  • Interesting
  • Madhusoodanan and his wife had tied the knot in 2003 under the Special Marriages Act and required an attested copy of th

केरल / 16 साल बाद सर्टिफिकेट लेने पहुंचा था व्यक्ति; कर्मचारियों ने कहा- दोबारा शादी करो, तब मिलेगा



प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • पीड़ित मधुसूदन ने आपबीती सोशल मीडिया पर शेयर की, पंजीकरण मंत्री जी. सुधाकरन ने संज्ञान लिया
  • मंत्री ने दुर्व्यवहार और कामचोरी के आरोप में चार कर्मचारियों को निलंबित कर दिया

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2019, 11:14 AM IST

कोझिकोड. केरल के मधुसूदन कोझिकोड के मुक्कोम में मैरिज-रजिस्ट्रार के कार्यालय में गए और शादी करने के 16 साल बाद अपने विवाह प्रमाणपत्र की मांग की, लेकिन कर्मचारियों ने सर्टिफिकेट देने से मना कर दिया। साथ ही उनका मजाक उड़ाते हुए कहा- 'आप दोबारा शादी करो, तभी सर्टिफिकेट मिलेगा।' मधुसूदन ने यह बात सोशल मीडिया पर शेयर की। इसके बाद राज्य के पंजीकरण मंत्री जी. सुधाकरन ने पीड़ित से दुर्व्यवहार और कामचोरी का आरोप में चार कर्मचारियों को निलंबित कर दिया। 

 

मंत्री ने फेसबुक पोस्ट कर दी जानकारी
मंत्री सुधाकरन ने गुरुवार को फेसबुक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा- 'सोशल मीडिया के जरिए पीड़ित मधुसूदन की शिकायत मिली थी। जिसके बाद कर्मचारियों को निलंबित कर दिया।' मधुसूदन ने 27 फरवरी, 2003 को विशेष विवाह अधिनियम के प्रावधानों के तहत शादी की थी। उन्हें 19 जून को अपने प्रमाणपत्र की जरूरत थी। उन्होंने अपने विवाह के सर्टिफिकेट के लिए आवेदन किया था।’ 

 

रिकॉर्ड न देखना लापरवाही है
कर्मचारियों ने पुराने रिकॉर्ड न देखने पड़े और वह जल्द विवाह प्रमाणपत्र जारी कर सकें। इसके लिए मधुसूदन को दोबारा शादी करने की बात कर्मचारियों ने कही। जबकि, प्रमाणपत्र तुरंत दिया जा सकता था। फिर भी तीन दिनों तक इंतजार करवाया। यह लापरवाही है।

 

 

COMMENT