मप्र / डॉक्टर्स ने किसान के सिर से सींग जैसी दिखने वाली 4 इंच की गांठ निकाली, चोट की वजह से उभरी थी

horn removed from Shyam Lal Yadavs head in sagar mp
X
horn removed from Shyam Lal Yadavs head in sagar mp

  • श्याम लाल यादव के सिर के आगे के हिस्से पर यह गांठ उभरी थी
  • पिछले 5 साल से वह हेयर सैलून पर इसे रेजर से कटवा लेते थे 
  • यह दुर्लभ ग्रोथ कीरैटिन प्रोटीन की वजह से होती है, ज्यादातर बुजुर्गों में देखी जाती है

दैनिक भास्कर

Sep 18, 2019, 07:05 PM IST

सागर (मध्यप्रदेश). सागर के रहली के रहने वाले एक किसान श्याम लाल यादव के सिर से डॉक्टर्स ने चार इंच (10 सेमी) की सींग जैसी गांठ ऑपरेशन कर निकाली। इसे त्वचा का ट्यूमर भी कहा जाता है। श्याम लाल के मुताबिक, 2014 में उनके सिर पर चोट लगी थी। उसके बाद यह धीरे-धीरे बढ़ने लगी।

 

यह गांठ श्याम लाल के सिर पर आगे के हिस्से पर उभरी थी। उन्होंने मीडिया को बताया, "शुरुआत में परेशानी हुई और कुछ अजीब सा लगा, लेकिन बाद में आदत बन गई। मैंने इसे कई बार निकलवाया, लेकिन यह बढ़ जाती। इस तरह यह सिलसिला करीब पांच साल चला।" पिछले दिनों सागर के भाग्योदय तीर्थ अस्पताल में किसान का ऑपरेशन हुआ। डॉक्टर विशाल गजभिये और उनकी टीम ने इसे निकाला। यह दुर्लभ ग्रोथ कीरैटिन की वजह से होती है। यह ज्यादातर बुजुर्गों में देखी जाती है। कीरैटिन एक तरह का प्रोटीन है। यह बाल, नाखून, पंख, सींग, पंजे, खुर और त्वचा की बाहरी परत को बनाने में अहम भूमिका निभाता है।  

 

श्याम इस सींग को हेयर सैलून पर कटवा लेते थे 

 

  • डॉ. गजभिये ने बताया, "श्याम लाल को पांच साल पहले सिर पर चोट लगी थी। इसके बाद लम्प (गांठ) बढ़ना शुरू हो गई। शुरुआत में श्याम ने ध्यान नहीं दिया और वह इसे हेयर सैलून वाले कटवा लेते थे। लेकिन जब यह गांठ कठोर हो गई और बढ़ने लगी तो अस्पताल में अप्रोच की।" 
  • यह गांठ आमतौर पर कीरैटिन की वजह से बनती है। इसे रेजर से हटाया जा सकता है, लेकिन जब यह असाधरण हो जाती है तो फिर सर्जरी कर निकाला जाता है। श्यामलाल के मामले में ऐसा ही हुआ। ऑपरेशन के बाद श्यामलाल को 10 दिन अस्पताल में रहना पड़ा। इलाज कई तरह से किया गया। इसमें सर्जरी, रेडिएशन थेरेपी और कीमोथेरेपी शामिल थी। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना