अमेरिका / 640 करोड़ रुपए में बिका कून्स का खरगोश, किसी जीवित कलाकार की यह सबसे महंगी कलाकृति



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • इससे पहले डेविड हॉकनेस की कलाकृति विश्व में सबसे महंगी थी, 634 करोड़ रुपये में उनका पोर्टेट बिका था
  • कून्स ने 1986 में स्टील का खरगोश तैयार किया था, नीलामी के समय इसका खरीदार कमरे में बैठा था
     

Dainik Bhaskar

May 16, 2019, 03:30 PM IST

न्यूयॉर्क. आर्टिस्ट जेफ कून्स का बनाया उड़ता खरगोश अब तक किसी भी जीवित कलाकार की सबसे महंगी कलाकृति बन गया है। क्रिस्टी में हुई नीलामी में यह 640 करोड़ रुपए में बिका। कून्स ने स्टील की इस कलाकृति को 1986 में तैयार किया था। इसकी नीलामी वैसे तो 562 करोड़ रुपये में हुई, लेकिन कमीशन और अन्य मदों को जोड़ दिया जाए तो इसकी कीमत 640 करोड़ रुपए है।

 

इससे पहले विश्व की सबसे महंगी कलाकृति बनाने का तमगा डेविड हॉकनेस के नाम था। नवंबर 2018 में क्रिस्टी में ही हुई नीलामी में उनका पोट्रेट 634 करोड़ रुपए में बिका था। इसमें पूल के किनारे केवल दो लोगों को दिखाया गया है। डेविड ब्रिटिश मूल के पेंटर हैं।   
 

कलाकृति खरीदने वाले के बारे में कोई जानकारी नहीं
खरगोश की कलाकृति लगभग 41 इंच (1.04 मीटर) ऊंची है। सूत्रों का कहना है कि जिस व्यक्ति ने इसे खरीदा वह नीलामी के वक्त कमरे में बैठा था। इस व्यक्ति के नाम के बारे में आयोजकों ने कोई जानकारी नहीं दी है।

 

कून्स का बैलून डॉग 410 करोड़ में बिका था

जेफ कून्स को लीक से हटकर काम करने के मामले में महारथ हासिल है। डेविड हॉकनेस से पहले विश्व की सबसे महंगी कलाकृति बनाने का पिछला रिकॉर्ड उनके ही नाम था। उनका बैलून डॉग (आरेंज) 2013 की नीलामी में 410 करोड़ रुपए में बिका था। उस समय यह विश्व रिकॉर्ड था। तकरीबन पांच सालों तक बैलून डॉग की वजह से जेफ कून्स शीर्ष पर रहे। 2018 में डेविड ने उनका रिकॉर्ड तोड़ा था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना