• Hindi News
  • Interesting
  • 1400 feet long Rinchen Bridge, bridge between Durbuk and Daulat Beg Oldi in eastern Ladakh

लद्दाख / 1400 फीट लंबा रिनचेन ब्रिज दुनिया के सबसे ऊंचे एयरबेस को देश से जोड़ेगा



1400 feet long Rinchen Bridge, bridge between Durbuk and Daulat Beg Oldi in eastern Ladakh
X
1400 feet long Rinchen Bridge, bridge between Durbuk and Daulat Beg Oldi in eastern Ladakh

  • चीन से लगती एलएसी से 40 किमी पहले बने ब्रिज का रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को उद्घाटन करेंगे
  • पूर्वी लद्दाख में दुरबुक और दौलत बेग ओल्डी के बीच बने ब्रिज से 14 घंटे की यात्रा साढ़े 6 घंटे में पूरी होगी

Dainik Bhaskar

Oct 21, 2019, 08:58 AM IST

लद्दाख.  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सोमवार को पूर्वी लद्दाख में दुरबुक और दौलत बेग ओल्डी(डीबीओ) के बीच बने रिनचेन ब्रिज का उद्घाटन करेंगे। यह पुल चीन सीमा पर वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) से 40 किमी पहले पूर्व में स्थित है। यह पुल श्योक नदी पर बनाया गया है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, यह ब्रिज 255 किमी लंबे दुरबुक रोड को डीबीओ से जोड़ेगा। दौलत बेग ओल्डी दुनिया का सबसे ऊंचा एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड (एयरबेस) है। 

 

डीबीओ 16000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। काराकोरम पास से भी बेहद नजदीक है। यहां से 8 किमी की दूरी पर एलएसी है। यह ब्रिज 1400 फीट लंबा और 13000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। इसके शुरू हो जाने से 14 घंटे की यात्रा साढ़े 6 घंटे में ही पूरी होने लगेगी। यानी 7.5 घंटे कम लगेंगे। साथ ही चीन सीमा पर सैनिकों के पहुंचने में भी काफी कम समय लगेगा। जम्मू-कश्मीर की चीन के साथ लगी 1597 किमी लंबी सीमा को एलएसी के नाम से जाना जाता है।

 

ब्रिज का नाम कर्नल चेवांग रिनचेन रखा
चेवांग ने तीन जंग लड़ी थी लद्दाख के इस ब्रिज का नाम कर्नल चेवांग रिनचेन रखा गया है। चेवांग ने पाकिस्तान के खिलाफ 1948 व 1971 और चीन के खिलाफ 1962 की जंग लड़ी थी।

 

rinchin

 

इस जंग में अदम्य साहस और नेतृत्व क्षमता दिखाने के लिए उन्हें 2 बार महावीर चक्र से सम्मानित किया गया। चेवांग ने 1948 में पाकिस्तान के खिलाफ नुब्रा घाटी की लड़ाई लड़ी थी। 1971 में उन्होंने लद्दाख में पाकिस्तान सेना के चालुनका और तुरतुक के सामरिक चौकी पर कब्जा कर लिया था।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना