• Hindi News
  • Interesting
  • Microscopic photos of coronavirus released, killing more than one and a half thousand people

अमेरिका / कोरोनावायरस की नई तस्वीरें जारीं, इससे अब तक डेढ़ हजार से ज्यादा लोगों की जान गई

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस को नया नाम कोविड-19 दिया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस को नया नाम कोविड-19 दिया है।
X
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस को नया नाम कोविड-19 दिया है।विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस को नया नाम कोविड-19 दिया है।

  • मोनटाना स्थित द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीजेस ने फोटो जारी कीं 
  • अकेले चीन में ही 67535 लोग इससे संक्रमित हैं और 1631 लोगों की मौत हो गई चुकी है

दैनिक भास्कर

Feb 15, 2020, 12:17 PM IST

मोंटाना. अमेरिका के मोंटाना स्थित द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऐलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीजेस ने कोरोनावायरस या कोविड-19 की नई तस्वीरें जारी की हैं। ये फोटो स्कैनिंग और ट्रांसमिशन इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोपिक से ली गई हैं। हालांकि, अभी और डिटेल सामने नहीं आई है।

अकेले चीन में ही 67535 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इससे मरने वालों की 1631 तक पहुंच गई है। वहीं, चीन से भारत लौटने वाले सभी लोगों को 14 दिन खुद आइसोलेशन में रहना होगा।

द नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऐलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीजेस ने यह तस्वीरें जारी की हैं।

1716 मेडिकल वर्कर भी वायरस से प्रभावित
चीन ने शुक्रवार को पहली बार कोरोनावायरस से प्रभावित चिकित्सकों का भी आंकड़ा जारी किया था। अधिकारियों के मुताबिक, मरीजों का इलाज करते हुए अब तक 1716 मेडिकल वर्कर वायरस से प्रभावित हुए हैं।6 डॉक्टर्स की भी मौत हो चुकी है।

चीन का हुबेई प्रांत कोरोनावायरस सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां 54 हजार 406 मामलों की पुष्टि हुई है।

चीन ने संक्रमितों के उपचार के लिए प्रोटो प्लाज्मा विकसित किया

  • चीनी वैज्ञानिकों ने कोरोनावायरस (कोविड-19) की चपेट में आए और बाद में ठीक हो गए मरीजों से प्रोटो प्लाजा जैविक तत्व विकसित किया है। इसका इस्तेमाल कोरोनावायरस के मरीजों के उपचार में व्यापक तौर पर किया जाएगा।
  • चाइना नेशनल बायोटेक ग्रुप कंपनी के वैज्ञानिकों ने इसे विकसित किया है। जो मरीज इस विषाणु से संक्रमित हुए थे उनके शरीर से इसे निकाला गया है। इसका इस्तेमाल कन्वलसेंट प्लाज्मा और इम्युनोग्लोबिन को बनाने में किया जाएगा।
चीन से बाहर 580 नए मामले पाए गए हैं। चीन को 30 देशों ने मेडिकल मदद दी।

10 मरीजों की सेहत में सुधार दिखा

वैज्ञानिकों के अनुसार, वुहान के जियांगजिया जिले में आठ फरवरी को गंभीर रूप से बीमार तीन मरीजों को प्लाज्मा उपचार दिया गया। इस समय 10 से ज्यादा गंभीर मरीजों को प्लाज्मा उपचार दिया गया है। जांच में पता चला है कि इसे लेने के 12 से 24 घंटों के बाद मरीजों में काफी सुधार के लक्षण दिखे हैं। उनमें संक्रमण के कारकों में कमी और ब्लड में घुलनशील ऑक्सीजन के स्तर में भी काफी सुधार देखने को मिला है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना