अमेरिका / नासा का पहला इलेक्ट्रिक विमान सामने आया, लीथियम आयन बैटरी वाली 14 मोटरें लगी होंगी



NASA unveils its first electric airplane
X
NASA unveils its first electric airplane

  • कैलिफोर्निया की एयरोनॉटिक्स लैब में 2015 से तैयार हो रहा विमान अगले साल उड़ान भरेगा
  • विमान को एडवर्ड एयरफोर्स बेस कैलिफोर्निया में शुक्रवार को लोगों के सामने पेश किया गया

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2019, 04:45 PM IST

एडवर्ड एयरफोर्स बेस कैलिफोर्निया. नासा का पहला ऑल इलेक्ट्रिक एयरप्लेन एक्स-57 मैक्सवेल शुक्रवार को सामने आया। इसे कैलिफोर्निया की एयरोनॉटिक्स लैब में बनाया गया है। इसमें इटली में निर्मित टेकनेम पी2006टी डबल इंजन प्रोपेलर लगे हैं। विमान का निर्माण 2015 से किया जा रहा था। विमान का फ्लाइंग टेस्ट अगले साल होगा। विमान में लीथियम आयन बैटरी वाली 14 मोटरें लगने के बाद इसे लोगों के लिए सार्वजनिक करने की मंजूरी मिल गई। शुक्रवार को विमान को एडवर्ड एयरफोर्स बेस कैलिफोर्निया में इसे सामने लाया गया। विमान में भी दूसरी फ्लाइट की तरह पैंतरेबाजी करने की क्षमता होगी।  

 

बेहतर टेक्नोलॉजी विकसित करना मकसद

बीते दो दशकों में एजेंसी के लिए काम करते हुए मैक्सवेल का यह पहला विमान होगा, जिसमें इंसान उड़ सकेगा। हालांकि निजी कंपनियां पहले से ही इलेक्ट्रिक विमान और हवाई टैक्सियां बना चुकी हैं। नासा के एक्स-57 विमान को विकसित करने का मकसद बेहतर टेक्नोलॉजी उपलब्ध कराना और व्यावसायिक इस्तेमाल के लिए सरकार से प्रमाणपत्र हासिल करना है।

 

तय मानकों पर हवाई जहाज को उड़ाना है

लॉस एंजिल्स से 160 किमी दूर एडवर्ड्स में नासा के आर्मस्ट्रॉन्ग फ्लाइट रिसर्च सेंटर के प्रोजेक्ट मैनेजर ब्रेंट कोबलिग ने कहा, ‘‘हम उन चीजों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं, जो पूरे उद्योग की मदद कर सकते हैं, न कि केवल एक कंपनी की। अभी हमारा लक्ष्य 2020 के अंत में इस हवाई जहाज को उड़ाना है। विमान में उड़ने की क्षमता के साथ-साथ ऊर्जा संरक्षिण और ध्वनि के लिए भी मानिक तय किए हैं।’’ 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना