• Hindi News
  • Interesting
  • Out of 33 crore people, 6 out of every 10 people suffer from loneliness, including social media users and youth

अमेरिका / 33 करोड़ लोगों में हर 10 में से 6 लोग अकेलेपन का शिकार, इनमें सोशल मीडिया यूजर और युवा भी

अकेलेपन के शिकार युवाओं में ऐसे भी जिन्हें नौकरी में आए सिर्फ 6 माह हुए हैं।(फोटो प्रतीकात्मक) अकेलेपन के शिकार युवाओं में ऐसे भी जिन्हें नौकरी में आए सिर्फ 6 माह हुए हैं।(फोटो प्रतीकात्मक)
X
अकेलेपन के शिकार युवाओं में ऐसे भी जिन्हें नौकरी में आए सिर्फ 6 माह हुए हैं।(फोटो प्रतीकात्मक)अकेलेपन के शिकार युवाओं में ऐसे भी जिन्हें नौकरी में आए सिर्फ 6 माह हुए हैं।(फोटो प्रतीकात्मक)

  • अमेरिकी इंश्योरेंस एजेंसी सिग्ना का दावा यूएस में अकेलापन महामारी का रूप ले रहा है
  • तमाम संसाधनों के बावजूद अकेलापन महसूस करने वाले एक साल में 13% बढ़े

Dainik Bhaskar

Jan 26, 2020, 07:38 AM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका की आबादी करीब 33 करोड़ है, इसके बावजूद वहां के 61%, यानी हर 10 में से 6 लोग अकेलेपन से जूझ रहे हैं। निराशाजनक बात यह है कि इसमें लगातार इजाफा हो रहा है और पिछले एक साल में ही ऐसे लोगों की संख्या 13% बढ़ गई है। दूसरी चौंकाने वाली बात यह है कि ऐसे लोगों में सबसे ज्यादा संख्या उन युवाओं की है जो सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय हैं, जिनकी उम्र 30 साल से कम है और इनमें वे युवा भी शामिल हैं, जिन्हें नौकरी ज्वाइन किए हुए महज 6 महीने हुए हैं। 

यह खुलासा अमेरिकी इंश्योरेंस एजेंसी सिग्ना की ताजा रिपोर्ट में हुआ है। सिग्ना ने 2018 से यह रिपोर्ट जारी करनी शुरू की है। यह दूसरी रिपोर्ट है। रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में अकेलापन महामारी बनता जा रहा है।

18-22 साल के युवा ज्यादा अकेले
 आम तौर पर माना जाता है कि बुजुर्गों को अकेलापन ज्यादा सताता है, लेकिन सर्वे के नतीजे इसके बिल्कुल विपरीत और चिंताजनक हैं। इसके मुताबिक 18 से 22 साल के 50% युवाओं ने कहा कि वे अकेलापन महसूस करते हैं। इनमें भी उनकी संख्या ज्यादा है, जो सोशल मीडिया पर ज्यादा सक्रिय हैं। वहीं 58% महिलाओं और 64% पुरुषों ने कहा कि वे तमाम सुविधाओं के बावजूद अकेलापन महसूस करते हैं।

ये लक्षण हैं, तो आप अकेलेपन का शिकार हो सकते हैं

  • लोगों तक अपनी बात नहीं पहुंचा पा रहे।
  • लोगों से गहराई से जुड़ने में दिक्कत।
  • कई परिचित, लेकिन कोई करीबी दोस्त नहीं।
  • ऐसा लगता है कि लोग आपको नहीं समझते।
  • दर्जनों लोगों के बीच मौजूद होने के बावजूद अकेले-अकेले रहना पसंद करते हैं।
  • खुद को लेकर नकारात्मक भावनाएं आती हैं।
  • सामाजिक गतिविधियों से जुड़ने की कोशिश के वक्त थकावट या बोरियत महसूस करते हैं।
  • पर्याप्त सामाजिक समर्थन नहीं 61%
  • सहकर्मियों से नहीं बनती 54%
  • हमें गलत समझा जाता है 54%
  • काम और जीवन में संतुलन नहीं 51%
  • भरोसेमंद साथी की कमी 49%
  • काम की गुणवत्ता में कमी 12%
  • सामाजिक जीवन और सार्थक संवाद की कमी से अकेलापन
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना