सर्वे / ऑक्सफोर्ड इंटरनेट इंस्टीट्यूट का दावा, ब्रिटेन में हर 5वां व्यक्ति इंटरनेट इस्तेमाल नहीं करता

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • इंटरनेट से दूर रहने वाले लोगों में बुजुर्ग, कम पढ़े-लिखे और अल्प आय वाले लोग अधिक हैं
  • 50 की उम्र से पहले अधिकांश लोग ऑनलाइन रहते हैं, इसके बाद रुचि कम होती जाती है

दैनिक भास्कर

Sep 17, 2019, 12:05 PM IST

लंदन. ऑक्सफोर्ड इंटरनेट इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए सर्वे में दावा किया गया है कि ब्रिटेन में हर पांचवां व्यक्ति आज भी इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करता है। इनमें काफी लोग बुजुर्ग और कम आय वाले हैं। सर्वे के मुताबिक, इंटरनेट का इस्तेमाल न करने वाले इन लोगों का कहना है कि वे अपनी इच्छा से ही इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करते हैं, क्योंकि उन्हें अपनी निजता की चिंता है। इसके अलावा उनके दोस्त और रुचि सीमित होने की वजह से उन्हें इसकी जरूरत ही नहीं होती है।

 

इंटरनेट से दूर रहने वाले लोगों में बुजुर्ग, कम पढ़े-लिखे और अल्प आय वाले लोग अधिक हैं। इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे डॉ. ग्रांट ब्लांक ने बताया कि इन लोगों में वे सभी लोग शामिल हैं, जो मोबाइल फोन या कंप्यूटर में से किसी भी माध्यम पर इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करते हैं। उन्होंने बीबीसी से बातचीत में कहा कि सामान्यत: 50 की उम्र से पहले अधिकांश लोग ऑनलाइन रहते हैं, लेकिन इस उम्र को पार करने के बाद इसमें तेजी से गिरावट आती है। यह दर 2% प्रतिवर्ष है।

70% लोग विज्ञापनों और डाटा ट्रैकिंग से परेशान

डॉ. ग्रांट ब्लांक ने कहा कि इंटरनेट को लेकर कई बातें हैं, जो बढ़ती उम्र के साथ इसे कम उपयोगी बनाती हैं। इस सर्वे के मुताबिक इंटरनेट छोड़ने वालों को हाल के दिनों में किसी तरह के वायरस अटैक या बैंक धोखाधड़ी का सामना भी नहीं करना पड़ा। जिन लोगों को सर्वे में शामिल किया गया, उनमें से 70% का कहना था कि वे विज्ञापनों और डाटा ट्रैकिंग से परेशान हैं।

इंटरनेट के इस्तेमाल के लिए मोबाइल फोन सबसे कॉमन उपकरण रहा। 92 फीसदी लोग इंटरनेट के लिए फोन का इस्तेमाल करते हैं। सर्वे में यह भी सामने आया कि समय और पैसे की बचत सहित इंटरनेट के फायदों से एक ही सोशल ग्रुप प्रभावित था। इसका इस्तेमाल न करने वालों में हर साल औसत करीब 25 लाख रुपये से कम कमाने वाले लोग अधिक थे। डॉ. ब्लांक ने कहा कि जो लोग इंटरनेट से दूर थे, उनमें अधिकांश को इससे काफी फायदा हो सकता है।

खासकर स्वास्थ्य और वित्तीय जानकारी पाने के लिए। इसके अलावा सरकार से मिलने वाले बेनिफिट को पाने में भी इसकी भूमिका हो सकती है। इनमें से कई लोग इन योजनाओं का लाभ ले भी रहे हैं। उन तक सरकार को पुराने तरीकों से ही पहुंचना पड़ता है। यह सर्वे घर-घर जाकर किया गया।

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना