ब्रिटेन / सरकार ने लोगों में मोटापा घटाने के लिए पिज्जा पर टॉपिंग कम करने को कहा

ब्रिटेन सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है। ब्रिटेन सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है।
ब्रिटेन में 10 साल में एक तिहाई बच्चे मोटापे का शिकार हुए हैं। ब्रिटेन में 10 साल में एक तिहाई बच्चे मोटापे का शिकार हुए हैं।
X
ब्रिटेन सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है।ब्रिटेन सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है।
ब्रिटेन में 10 साल में एक तिहाई बच्चे मोटापे का शिकार हुए हैं।ब्रिटेन में 10 साल में एक तिहाई बच्चे मोटापे का शिकार हुए हैं।

  • ब्रिटेन के करीब 24 हजार बच्चे मोटापे के गंभीर स्तर पर
  • लोगों के रोज के खाने में 20% तक कैलोरी कम करना चाहती है सरकार
  • पिज्जा में ऊर्जा 928 कैलोरी तक सीमित रखने को कहा गया

Oct 15, 2018, 01:39 PM IST

लंदन. ब्रिटेन सरकार ने मोटापे की समस्या को काबू करने के लिए पिज्जा में कैलोरी घटाने की योजना बनाई है। इसके लिए फूड चेन कंपनियों से पिज्जा पर चीज, कॉर्न और वेजिटेबल की टॉपिंग कम करने का निर्देश दिया है। सरकार के ड्राफ्ट में कहा गया है कि पिज्जा में 928 कैलोरी और सेवरी पाई (एक फूड क्रीम) में 695 कैलोरी से ज्यादा ऊर्जा नहीं होनी चाहिए। सैंडविच और पैक्ड फूड के लिए भी कैलोरी की सीमा तय कर दी गई है।

रेस्तरां में परोसना होगा कम कैलोरी वाला फूड

ड्राफ्ट प्रपोजल के हवाले से द टेलीग्राफ ने बताया- मशहूर रेस्तरां से कहा गया है कि अब बाजारों को ही लोगों के बढ़ते मोटापे को काबू करने का ध्यान रखना होगा।

पब्लिक हेल्थ ब्रिटेन (पीएचई) ने कहा है कि देश को मोटापे की समस्या से निजात पाने के लिए ठोस कदम उठाने होंगे। बच्चों में मोटापे की समस्या बढ़ी है। 10 साल में एक तिहाई बच्चे मोटापे का शिकार हुए हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक- प्राइमरी स्कूल छोड़ने के बाद पांच में से एक बच्चा मोटापे का शिकार पाया गया। ब्रिटेन के करीब 24 हजार बच्चे गंभीर रूप से मोटापे से पीड़ित बताए गए।

 

child

सरकार के इस कदम को कुछ लोग पूरी तरह ठीक नहीं मानते। हेल्थ एक्सपर्ट एलीसन का कहना है- मेन्यू में हेल्दी फूड रखने भर से देश को इनकी आदत नहीं हो जाएगी। लोगों को खुद कैलोरी कम करने के बारे में सोचना होगा।

सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है। साथ ही बच्चों में बढ़ रहे मोटापे की दर को 2030 तक कम करना है। पब्लिक हेल्थ मिनिस्टर स्टीव ब्राइन का कहना है कि सरकार किसी भी कीमत पर देश के बच्चों को स्वस्थ रखना चाहती है।

 

pizza

एलीसन के मुताबिक- मेन्यू में हेल्दी फूड रखने भर से देश को इनकी आदत नहीं हो जाएगी। लोगों को खुद कम कैलोरी लेने के बारे में सोचना होगा। हाल ही में अफसरों ने रेस्तराओं में जाकर खाने में कैलोरी कम करने को लेकर बात की है।

सरकार का मकसद रोज के खाने में 20% तक कैलोरी की कमी करना है। साथ ही बच्चों में बढ़ रहे मोटापे की दर को 2030 तक कम करना है। पब्लिक हेल्थ मिनिस्टर स्टीव ब्राइन का कहना है कि सरकार किसी भी कीमत पर देश के बच्चों को स्वस्थ रखना चाहती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना