पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Russia Develops Separate Internet System

अमेरिका से खतरा बताकर रूस ने अलग इंटरनेट सिस्टम बनाया, अन्य देश बोले- ये साजिश है

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रूस में लोगों को बिना बताए प्रयोग किया गया, किसी को बदलाव का पता ही नहीं चला
  • तीन साल से इसकी तैयारी की जा रही थी, चीन-ईरान भी कोशिश कर चुके हैं

माॅस्काे. रूस ने अपने देश में वैकल्पिक इंटरनेट सिस्टम तैयार कर लिया है। इसका प्रयोग सफल रहा। साेमवार काे लोगों को जब इसके बारे में बताया गया तो वे हतप्रभ रह गए। हालांकि, लोगों ने अपने इंटरनेट सिस्टम के इस्तेमाल के दौरान किसी भी तरह का बदलाव महसूस नहीं किया। रोज की तरह वे बिना किसी रुकावट के इंटरनेट का इस्तेमाल करते रहे।


रूस पिछले तीन सालों से इस बात की तैयारी कर रहा था कि अगर वर्ल्ड वाइड वेब से उसका संबंध टूट जाता है या अमेरिकी हस्तक्षेप बढ़ता है, तो देश के लोगों को जोड़ने के लिए उसका अपना इंटरनेट सिस्टम पूरी तरह तैयार है। रूस के इस प्रयोग की अमेरिका, ब्रिटेन समेत कई देशों ने यह कहते हुए आलोचना की है कि इससे इंटरनेट ब्रेकअप होगा और रूस अपने ही देश के लोगों पर पूरा नियंत्रण रखना चाहता है। इससे पहले चीन और ईरान ऐसी कोशिश कर चुके हैं।

रूस के मंत्री बोले, मजबूरन हमने ऐसा किया
रूस के उप संचार मंत्री एलेक्सी सोकोलोव ने कहा- हमने यह प्रयोग नवंबर में पारित किए गए ‘संप्रभु इंटरनेट बिल’ के तहत ही किया है। दरअसल, अमेरिकी साइबर सुरक्षा रणनीति की आक्रामक रुख को देखते हुए हम मजबूर हुए हैं। कानून के अनुसार, सरकारी संस्थानों और सुरक्षा सेवाओं के साथ सभी संचार ऑपरेटर्स, मैसेंजर्स और ई-मेल सेवा देने वालों को प्रयोग में भाग लेना था, जो नियमित इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को प्रभावित नहीं करते हैं। हमारा लक्ष्य था कि रूस में हर हाल में लोगों को निर्बाध इंटरनेट सेवा मिले।

इंटरनेट का कोई मालिक नहीं, सब मिलकर काम करते हैं
इंटरनेट किसी सरकार द्वारा नियंत्रित नहीं है। यह मिलकर काम करने वालों का समूह है। कोई एक व्यक्ति, कंपनी, संस्था या सरकार इसका मालिकाना हक नहीं रखती है। लेकिन कुछ एजेंसी सलाह देकर, मानक निर्धारित कर और अन्य मुद्दों पर जानकारी देकर इसे काम करने में मदद करती हैं। दुनिया में लगभग साढ़े चार सौ करोड़ लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं।

ऐसे काम करता है इंटरनेट

  • डोमेन वह सिस्टम है, जो इंटरनेट में बताए गए नाम और आईपी एड्रेस स्टोर रखता है। डोमेन का जिक्र करते ही इंटरनेट सर्वर उसे संबंधित आईपी एड्रेस में ट्रांसलेट करके डेटा कम्प्यूटर तक भेज देता है।
  • सर्विस प्रोवाइडर भी 3 स्तरों पर हैं। पहली कंपनी समुद्र के नीचे केबल डालकर सर्विस प्रोवाइडर्स को दुनियाभर से जाेड़ती हैं। दूसरी इन प्रोवाइडर्स को राष्ट्र से और तीसरी कंपनी स्थानीय प्रोवाइडर्स होती हैं।
  • इंटरनेट में गाइडलाइन, स्टैंडर्ड और रिसर्च करने वाले समूह को वर्ल्ड वाइड कंसोर्टियम (W3C) कहते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें