• Hindi News
  • Interesting
  • The teacher had no parents and brothers, 1200 students collected 1 lakh 71 thousand and gave away.

राजस्थान / शिक्षिका को 1200 बच्चों ने दी गुरु दक्षिणा, 1.71 लाख रु. एकत्रित कर कन्यादान किया

जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय से गणित विषय में प्रथम श्रेणी से एमएससी पास हेमा ने 5 साल में सिर्फ 6 छुट्‌टी लीं। जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय से गणित विषय में प्रथम श्रेणी से एमएससी पास हेमा ने 5 साल में सिर्फ 6 छुट्‌टी लीं।
X
जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय से गणित विषय में प्रथम श्रेणी से एमएससी पास हेमा ने 5 साल में सिर्फ 6 छुट्‌टी लीं।जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय से गणित विषय में प्रथम श्रेणी से एमएससी पास हेमा ने 5 साल में सिर्फ 6 छुट्‌टी लीं।

  • पाली के सुंदरनगर की शिक्षिका हेमा प्रजापत के लिए 5 साल से स्टूडेंट्स ही परिवार के सदस्य थे
  • स्कूल प्रबंधन ने संबंधियों के साथ मिलकर सहयोग किया, शादी में बच्चों ने रस्में निभाईं
  • बच्चों ने अपने जेब खर्च और स्कूल से 1.71 लाख रुपए एकत्रित किए

Dainik Bhaskar

Dec 15, 2019, 12:38 PM IST

पाली (उदयवीरसिंह राजपुरोहित). पाली के सुंदरनगर स्थित राजश्री स्कूल की शिक्षिका हेमा प्रजापत को 1200 छात्रों ने अनूठी गुरु दक्षिणा दी। हेमा की शादी में बच्चों ने स्कूल प्रबंधन के सहयोग और अपने जेब खर्च से 1 लाख 71 हजार का एकत्रित कर कन्यादान किया। हेमा के माता-पिता और भाई नहीं थे। ऐसे में विद्यालय स्टाफ के साथ ही वहां पढ़ने वाले बच्चों ने 10 दिसंबर को शादी की। बारातियों का स्वागत रिश्तेदारों ने किया।

शिक्षिका ने बताया, वह बच्चों की इस गुरु दक्षिणा को वापस पढ़ाकर पूरा करेगी। बच्चों ने जो किया वह किसी सपने के सच होने जैसा है। स्कूल प्रबंधन और छात्र इतना प्यार करेंगे सोचा नहीं था। स्कूल के निदेशक राजेंद्रसिंह धुरासनी ने बताया कि बच्चों की इस पहल के बाद स्टाफ और प्रबंधन ने भी शिक्षिका की मदद की। शिक्षिका हेमा को महिला दिवस पर भी श्रेष्ठ शिक्षिका का सम्मान और 51 हजार का पुरस्कार दिया गया था।

बहन की देखभाल कर जीवन संवारना सीखा
हेमा का बचपन कठिनाइयों भरा रहा। छह माह की उम्र में पिता नहीं रहे, 16 साल की उम्र में मां का भी निधन हो गया था। छोटी बहन को पढ़ाने और पालने की जिम्मेदारी भी हेमा पर थी। हेमा स्कूल की छुट्टी के बाद नियमित रूप से 2 घंटे रुक कर जरूरतमंदों को निशुल्क कोचिंग देती हैं। यही नहीं, अवकाश के दिन भी स्कूल में विद्यार्थियों की एक्स्ट्रा क्लास ली। हेमा ने 5 साल में मात्र 6 छुट्टी ली हैं। हेमा ने जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय से गणित विषय में प्रथम श्रेणी से एमएससी किया और बीएड किया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना