लंदन / यूके ने 50 पैसे का 'ब्रेग्जिट सिक्का' जारी किया, कहा- यह नए अध्याय का प्रतीक

यदि ब्रेग्जिट डील होती है तो शुक्रवार को 30 लाख (तीन मिलियन) सिक्के यूके में जारी किए जाएंगे। यदि ब्रेग्जिट डील होती है तो शुक्रवार को 30 लाख (तीन मिलियन) सिक्के यूके में जारी किए जाएंगे।
X
यदि ब्रेग्जिट डील होती है तो शुक्रवार को 30 लाख (तीन मिलियन) सिक्के यूके में जारी किए जाएंगे।यदि ब्रेग्जिट डील होती है तो शुक्रवार को 30 लाख (तीन मिलियन) सिक्के यूके में जारी किए जाएंगे।

  • चांसलर साजिद जाविद ने रविवार को 50 पैसे का ब्रेग्जिट सिक्का जारी किया
  • तय 31 जनवरी तक डील हो जाती हो तो 30 लाख सिक्के उस दिन जारी किए जाएंगे

Dainik Bhaskar

Jan 26, 2020, 12:58 PM IST

लंदन. यूके 31 जनवरी को यूरोपियन यूनियन (ईयू) से बाहर हो सकता है। इससे पहले रविवार को चांसलर साजिद जाविद ने 50 पैसे का ब्रेग्जिट सिक्का जारी किया। इस पर लिखा- सभी देशों के साथ शांति, समृद्धि और दोस्ती। साथ में 31 जनवरी की तारीख दर्ज है।

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 25 जनवरी को ईयू से बाहर होने के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। अगर यह डील हो जाती है तो शुक्रवार को 30 लाख (तीन मिलियन) सिक्के यूके में जारी किए जाएंगे। इसके बाद, साल के आखिर तक 70 लाख सिक्के रिलीज किए जाएंगे। अगर ब्रेग्जिट की तारीख में कोई फेरबदल होता है, तो इन सभी सिक्कों को गला दिया जाएगा और अगली तारीख दर्ज की जाएगी। उधर, रॉयल मिंट का कहना है कि अगर इन सिक्कों की मांग बढ़ी तो वह 24 घंटे काम करेंगे।

'हमारे लिए महत्वपूर्व मोड'
जाविद ने बताया कि यूरोपीय संघ को छोड़ना हमारे इतिहास का एक महत्वपूर्ण मोड़ है और यह सिक्का इस नए अध्याय की शुरुआत का प्रतीक है। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि यूरोपियन यूनियन इस हफ्ते ब्रेग्जिट डील पर साइन कर देगी।

इस साल के आखिर तक 70 लाख सिक्के रिलीज किए जाएंगे।

ब्रेग्जिट में अब आगे क्या?
31 जनवरी के बाद 11 महीने का ट्रांजिशन पीरियड रखा गया है। इस दौरान ब्रिटेन यूरोपीय संघ का सदस्य नहीं रहेगा, पर उसके नियमों का पालन करेगा और बजट में योगदान देगा। ट्रांजिशन पीरियड इसलिए रखा गया है ताकि ब्रिटेन और ईयू व्यापार समझौते समेत भविष्य में संबंधों पर बात कर सकें। ट्रांजिशन पीरियड 1 फरवरी से शुरू हो जाएगा।

यूके को ईयू से बाहर होने का भारी नुकसान
ब्रेग्जिट से ब्रिटिश इकोनॉमी को 2016 से 2020 तक 18.9 लाख करोड़ का नुकसान संभव है। फिलहाल यह 12 लाख करोड़ रु. है। ब्लूमबर्ग के मुताबिक हाल के वर्षों में वैश्विक वृद्धि कमजोर रही है, पर ब्रिटेन ज्यादा ही पिछड़ गया है। इसकी सालाना ग्रोथ रेट 2% से घटकर 1% रह गई है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना